जिला रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा हर घर तिरंगा अभियान के तहत निकाली गई साइकिल रैली

पोलिंग पार्टियों को वितरित की चुनाव सामग्री,प्रशिक्षण देकर बूथों के लिए किया रवाना

सिरसा, 11 मई।

पोलिंग पार्टियों को उनकी जिम्मेवारियों का अहसास करा सफल मतदान के दिए सुझाव

लोकसभा आम चुनाव 2019 के छठे चरण में 12 मई को होने वाले मतदान के लिए पोलिंग पार्टियों को उनकी जिम्मेवारियों का अहसास करवाते हुए बूथों के लिए रवाना कर दिया गया। चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय में संबंधित सहायक निर्वाचन अधिकारियों ने अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र के लिए मतदान में लगी पोलिंग पार्टियों को चुनाव सामग्री वितरण कर उन्हें निर्धारित बूथों के लिए रवाना किया।

पोलिंग पार्टियों का निरीक्षण करते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी प्रभजोत सिंह

चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय में जिला की सभी पांचों विधानसभा क्षेत्र में मतदान में लगी पोलिंग पार्टियों को ईवीएम, वीवीपैट सहित अन्य चुनाव सामग्री वितरित की गई। चुनाव सामग्री वितरण से पूर्व मतदान प्रक्रिया में लगे सभी कर्मचारियों को संबंधित सहायक निर्वाचन अधिकारियों ने चुनाव प्रक्रिया की का अंतिम प्रशिक्षण देते हुए चुनाव ड्यूटी को पूरी निष्ठा, पारदर्शिता के साथ सफलतापूर्वक सम्पन्न करने के लिए निर्देशित किया। उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने पोलिंग पार्टियों को चुनाव सामग्री वितरण प्रक्रिया का स्वयं निरीक्षण किया और पोलिंग पार्टियों को मतदान प्रक्रिया में बरती जाने वाली सावधानियों तथा आयोग के निर्देशों के बारे में अवगत करवाते हुए चुनाव ड्यूटी को पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ निभाने को कहा। इस दौरान सिरसा विधानसभा क्षेत्र की एआरओ मनदीप कौर, ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के एआरओ अमित कुमार, कालांवाली विधानसभा क्षेत्र के वीरेंद्र सिंह, रानियां विधानसभा क्षेत्र के एआरओ राजेंद्र सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 

संबंधित बूथों के लिए रवाना होती हुए पोलिंग पार्टियां

कल प्रात: 7 बजे शुरू होगा मतदान, एक घंटे पहले होगा मॉक पोल :

कल 12 मई को प्रात: 7 बजे मतदान प्रक्रिया शुरू हो जाएगी, जोकि सायं 6 बजे तक चलेगी। मतदान के एक घंटे पूर्व यानि प्रात: 6 बजे मॉक पोल होगा, जोकि संबंधित प्रत्याशियों व पार्टियों के ऐजेंट की उपस्थिति में होगा। मॉकपोल के बाद ऐजेंटों के हस्ताक्षर उपरांत ही मतदान प्रक्रिया शुरू की जाएगी। 

994 बूथों पर 9 लाख 30 हजार 648 मतदाता डालेंगे वोट :

जिला की पांच विधानसभा के 994 बूथों पर 9 लाख 30 हजार 648 मतदाता करेंगे वोट

जिला की पांच विधानसभा क्षेत्र सिरसा, रानियां,कालांवाली,ऐलनाबाद तथा डबवाली में लोकसभा चुनाव के छठे चरण के लिए मतदान होगा। पांचों विधानसभा क्षेत्रों में कुल 994 बूथ बनाए गए है। इन बूथों पर जिला के 9 लाख 30 हजार 648 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करें। सबसे अधिक बूथ डबवाली विधानसभा क्षेत्र में बनाए गए हैं, वहीं सबसे अधिक मतदाता सिरसा विधानसभा क्षेत्र में मत डालेंगे। 42-कालांवाली(एससी) में 193 बूथों पर एक लाख 75 हजार 116, 43-डबवाली में 217 बूथ पर एक लाख 96 हजार 69 मतदाता, 44-रानियां में 193 बूथों पर एक लाख 77 हजार 719, 45-सिरसा विधानसभा क्षेत्र के 200 बूथों पर 2 लाख 3 हजार 302 तथा 46-ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के 190 बूथों पर एक लाख 78 हजार 442 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

सखी व मॉडल बूथ मतदाताओं को करेंगे आकर्षित :

सखी बूथ के रवाना होती हुई महिला पोलिंग पार्टी

अधिक मतदान के लिए प्रेरित करने बारे प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक-एक सखी व मॉडल बूथ बनाए गए हैं। सखी बूथों पर पूरा स्टाफ महिला कर्मियों का ही रहेगा। मतदान करवाने से लेकर सुरक्षा व्यवस्था तक महिला स्टाफ की ड्यूटी रहेगी। इसी प्रकार मॉडल बूथों पर मतदाताओं के बैठने से लेकर अन्य विशेष सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी।

बुजुर्गों व दिव्यांगों को मिलेगी वाहन की सुविधा :

मतदान में दिव्यांगों व बुजुर्गों की अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने तथा उन्हें सहज व बिना बाधा के मतदान करवाने के उद्ेश्य से नि:शुल्क वाहन व्यवस्था उपलब्ध रहेगी। इस कार्य के लिए जिला में 45 वाहनों की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा 50 व्हील चेयर व 13 ट्राई साईकिल की भी व्यवस्था दिव्यांग मतदाताओं के लिए रहेगी। इस कार्य के लिए जीएम रोडवेज को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

फोटो बैलेट पेपर का होगा इस्तेमाल :

चुनाव चिन्ह के साथ-साथ बैलेट पेपर पर होगा प्रत्याशी का फोटो

लोकसभा आम चुनाव में पहली बार फोटो बैलेट पेपर का प्रयोग होगा। पहले जहां बैलेट पेपर पर प्रत्याशी का केवल नाम व चुनाव चिन्ह ही अंकित होता था। कई बार एक ही नाम के कई प्रत्याशी होने की स्थिति में मतदाता के असामजस्य को दूर करने के लिए आयोग ने बैलेट पेपर पर प्रत्याशी के नाम व चुनाव चिन्ह के साथ-साथ उनके फोटो को भी अंकित किया गया है।

वीवीपैट पर दिखेगा मतदाता को अपने मत के प्रयोग का सबूत :

मतदाताओं की संतुष्टि के लिए पहली बार वीवीपैट का प्रयोग होगा। वीवीपैट पर मतदाता को उस द्वारा जिस प्रत्याशी को वोट किया है, उस प्रत्याशी के चुनाव चिन्ह को मतदाता वीवीपैट के स्क्रीन पर देख सकेगा। यह पर्ची मतदाता को सात सैंकेड के लिए दिखाई देगी।

वैब कास्टिंग से मतदान प्रक्रिया का होगा लाइव प्रसारण :

वैब कॉस्टिंग के जरिये 60 बूथों की मतदान प्रक्रिया का होगा लाइव प्रसारण, मतदान प्रात: 7 से सायं 6 बजे तक

जिला की पांचों विधानसभा क्षेत्र के 60 बूथों पर होने वाली मतदान प्रक्रिया का लाइव प्रसारण देखा जा सकेगा। वैब कॉस्टिंग के जरिये चुनाव आयोग की वैबसाइट पर मतदान करते हुए का सीधा प्रसारण होगा। इस सुविधा से सुरक्षा की दृष्टि से भी मतदान केंद्रों पर नजर रखी जा सकेगी।

दो हजार के करीब चुनाव प्रक्रिया, तो इतने ही जवान संभालेंगे सुरक्षा की कमान:

निष्पक्ष, शांतिपूर्वक व निर्भिक रूप से मतदान के लिए जिला व पुलिस प्रशासन ने पूरी तैयारी कर दी है। जहां दो हजार से अधिक अधिकारी व कर्मचारी चुनाव प्रक्रिया को सम्पन्न करवाएंगे, वहीं दो हजार से अधिक पुलिस जवान सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता बनाएंगे। सुरक्षा में किसी प्रकार की कोई ढिलाई या कमी ना रहे इसके लिए होमगार्ड व बाहर से भी पुलिस फोर्स बुलाई गई है। उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने जहां चुनाव प्रक्रिया में लगे अधिकारियों व कर्मचारियों को मतदान प्रक्रिया को पूरी तहर से निष्पक्ष व सफलतापूर्वक सम्पन्न करने बारे दिशा-निर्देश दिए हैं, वहीं पुलिस अधीक्षक डॉ. अरूण सिंह ने पुलिस जवानों को चुनाव ड्यूटी को पूरी मुश्तैदी से निभाने के निर्देश दिए हैं।

मतदान केंद्र के 200 मीटर की परिधि से बाहर होगा पार्टियों का बूथ :

राजनीतिक दल व प्रत्याशी अपना बूथ मतदान केंद्र के 200 मीटर के बाहर ही बना सकेंगे। बूथ पर प्रत्याशी अपना चुनाव चिन्ह का बैनर आयोग के निर्धारित साईज का ही लगा सकेगा। बूथ पर दो से अधिक व्यक्ति नहीं बैठ सकते। इसके अलावा दो अधिक पोलिंग बूथों वाले केंद्रों पर हैल्प डैस्क लगाएगा, जिसमें संबंधित बीएलओ को लगाया गया है, जोकि मतदाता को उनके बूथ के बारे में जानकारी देगा।  

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply