*श्रीमती अरूणा आसफ अली राजकीय महाविद्यालय कालका में राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन*

पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश ए के मितल ए वोटिंग राईट अवेयरनैस कम्पैन का शुभारम्भ करते हुए

पंचकूला, 7 अप्रैल

पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एवं हरियाणा राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण के अध्यक्ष ए के मितल ने श्री माता मनसा देवी मन्दिर परिसर पंचकूला में आयोजित कानूनी जागरूकता शिविर का अवलोकन किया तथा मतदान का अधिकार के लिए जागरूकता लाने वाले अभियान का शुभारम्भ भी किया।


न्यायाधीश ने उपस्थित लोगों से बातचीत करते हुए कहा कि प्राधिकरण हर व्यक्ति को सस्ता एवं सरल न्याय सुलभ करवाने के साथ साथ अन्य सभी प्रकार की जानकारी मुहैया करवाने के लिए तत्पर है ताकि कोई भी व्यक्ति बिना जागरूकता के अपने अधिकारों से वंचित न रह सके। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण द्वारा लोगों को उनके मूल कर्तव्यों से अवगत करवाने के अलावा वरिष्ठ नागरिक भरण एवं पोषण कल्याण अधिनियम के तहत बुजुर्गो को मान सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिलाने में सहायक होता है। इसके साथ ही पी़िड़त मुआवजा योजना के तहत पात्र व्यक्त्यिों को उनका हक दिलवाया जाता है। इसी प्रकार बच्चों, महिलाओं के साथ के छेडछाड, मारपीट, मानसिक, शारीरिक शोषण, बाल विवाह, बाल श्रम, भिक्षावृति आदि रोकने के लिए जागरूकता प्रदान करता है।


श्री मितल ने कहा कि उपभोक्ता सरंक्षण अधिकार, दहेज और कानून, जन सूचना अधिकार, ठेका मजदूरी, घरेलू ंिहसंा से सुरक्षा, बंधुआ मजदूरी, न्यूनतम मजदूरी, लैंगिग अपराधों से बच्चों को सरंक्षण, सन्निकार कर्मकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ दिलाने के साथ साथ जरूरतमंद एवं गरीब परिवारों को निशुल्क कानूनी सेवाएं भी प्रदान करवाने का कार्य करता है। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण नागरिकों को कानूनी सेवाओं के बारे में जागरूक करने के अलावा सामाजिक सेवाओं की सुरक्षा में भी अहम भूमिका निभाता है।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply