नगर परिषद सिरसा की मतदाता सूची का हुआ प्रकाशन

नीरव मोदी को लगा झटका, जमानत याचिका खारिज

नीरव मोदी को लेकर लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट में चल रही सुनवाई में भारतीय अधिकारियों का पक्ष रख रहे टोबी कैडमैन ने कोर्ट में कहा कि नीरव मोदी भारतीय एजेंसियों के साथ सहयोग नहीं कर रहा है।

उसे थोड़ी सी भी ढील देने पर डर है कि कहीं वह फिर से हाथ से न निकल जाए।

नीरव से ये भी खतरा है कि वह अपने खिलाफ खड़े गवाहों को डरा धमकाकर प्रभावित कर सकता है, साथ ही सुबूतो के साथ छेड़छाड़ भी कर सकता है।

लंदन पुलिस ने 14 मार्च को नीरव मोदी को गिरफ्तार किया था। अगले दिन पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया जहां नीरव को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

पंजाब नेशनल बैंक से 13 हजार करोड़ का लोन लेकर फरार नीरव मोदी को भारत सरकार जल्द से जल्द वापस लाने की कोशिश में लगी हुई है।

ईडी ने मुंबई और सूरत में स्थित नीरव मोदी की चल और अचल संपत्तियों को अस्थायी रूप से अपने कब्जे में ले लिया।

जिसमें 8 कारें, संयंत्र और मशीनरी, आभूषण, पेटिंग और अचल संपत्तियां शामिल हैं और जिनका बाजार मूल्य 147.22 करोड़ रुपये है।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply