*MCC organizes special workshop for students on World Paper Bag Day*

चण्डीगढ़ में जल्द खोला जाएगा सेंसर बोर्ड का क्षेत्रीय सुविधा कार्यालय – अनुराग ठाकुर

केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा मामले एवं खेल मंत्री ने पंचकूला में की घोषणा

हरियाणा, हिमाचल, पंजाब, उत्तराखंड, जेएंडके और लद्दाख के फिल्मकारों को मिलेगा विशेष लाभ

भारत को कंटेंट कोंटिनेंट और कंटेंट हब बनाने की दिशा में कार्य करें फिल्मकार – अनुराग ठाकुर

For Detailed

पंचकूला, 25 फरवरी – केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा मामले एवं खेल मंत्री श्री अनुराग ठाकुर ने घोषणा की कि सेंट्रल बोर्ड आॅफ फिल्म सर्टिफिकेशन जिसे सेंसर बोर्ड भी कहा जाता है, का रीजनल फेसीलिटेशन आॅफिस (क्षेत्रीय सुविधा कार्यालय) शीघ्र ही चण्डीगढ़ में खोला जाएगा। इस केन्द्र के खुलने से पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख तथा उत्तराखंड के फिल्मकारों को विशेष लाभ मिलेगा।


श्री अनुराग ठाकुर आज इंद्रधुनुष आॅडिटोरियम सेक्टर-5 पंचकूला में 5वें चित्र भारती फिल्मोत्सव के समापन समारोह में मुख्यातिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय सिनेमा उद्योग से जुड़े लोगों द्वारा फिल्म सर्टिफिकेशन के लिए चण्डीगढ़ में सेंसर बोर्ड के सुविधा केन्द्र को खोलने की मांग पिछले लम्बे समय से की जा रही थी।  
इससे पूर्व श्री अनुराग ठाकुर ने फिल्म फेस्टिवल में ज्यूरी द्वारा चयनित की गई विभिन्न श्रेणी के विजेता फिल्मकारों को ट्राफी, नकद पुरस्कार के चैक एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार फिल्म जगत को पायरेसी मुक्त करने के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में अनेक कड़े कदम उठाए जा रहे हैं। इसके लिए हाल ही में संसद में एक कानून भी पारित किया गया है, जिसके तहत पायरेसी करने वालों पर शिकंजा कसेगा और जेल की सजा भी होगी। उन्होंने कहा कि पायरेसी की समस्या से निपटने के लिए देश में 12 विशेष अधिकारियों की नियुक्ति भी की गई है। पायरेसी करने वालों पर लाखों रूपये के जुर्माने के साथ-साथ सजा का भी प्रावधान किया गया है।
उन्होंने कहा कि अब फिल्मकारों को फिल्म सर्टिफिकेशन के लिए सेंट्रल बोर्ड आॅफ फिल्म सर्टिफिकेशन कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है। आॅनलाइन माध्यम से ही सर्टिफिकेट प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि डीएवीपी के लिए भी पोर्टल लाॅच किया गया है। इस माध्यम से बुकिंग व पेमेंट आॅनलाइन की जा सकेंगी।


उन्होंने कहा कि पहले समाचार पत्रों, पत्रिकाओं के पंजीकरण के लिए दो-दो साल का इंतजार करना पड़ता था, परंतु केन्द्र सरकार द्वारा इस प्रक्रिया को सरल बनाया गया है। अब मात्र 2 महीने की अवधि में समाचार पत्र, पत्रिकाएं टाइटल प्राप्त कर सकेंगी और प्रकाशन का कार्य जल्द से जल्द आरम्भ हो सकेगा।
श्री अनुराग ठाकुर ने फिल्मकारों से आह्वान किया कि वो भारत को कंटेंट कोंटिनेंट और कंटेंट हब बनाने की दिशा में कार्य करें। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने साइंस और सनातन के क्षेत्र में अभूतपूर्व तरक्की की है। आईआईएमसी को डिम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा दिया गया है। भारतीय सिनेमा की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे सिनेमा ने विश्व में अपनी एक अलग छाप छोड़ी है। प्रतिवर्ष दुनिया में 2500 फिल्में बनती हैं, जिनमें से 50 प्रतिशत फिल्मों का निर्माण भारत करता है। कोविड के समय में जब मनोरंजन का कोई साधन नहीं था दूरदर्शन द्वारा रामायण के प्रसारण ने दर्शकों की रिकाॅर्ड रेटिंग दर्ज की।
उन्होंने कहा कि सिनेमा मनोरंजन का साधन हीं नहीं, बल्कि समाज को जागरूक करने का भी एक प्रभावी माध्यम है। उन्होंने कहा कि भारतीय सिनेमा की यह भी जिम्मेदारी है कि देश की कला, संस्कृति और संस्कारों को किस रूप में दुनिया को दिखाया जाए, ताकि देश पुनः विश्व गुरू बने।
हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि इस फिल्मोत्सव ने पंचकूला को एक अलग पहचान दी है। फिल्में देश को नई दिशा देने का काम कर सकती है। इस क्षेत्र में काम करने वाले फिल्मकारों और तमाम विधाओं से जुड़े कलाकारों को चाहिए कि वे युवाओं को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए कार्य करें। उन्होंने आशा व्यक्ति की कि देश की एकता और अखंडता के लिए फिल्मकार अपनी भूमिका निभाएंगे।
इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम में हरियाणा और पंजाब की संस्कृति को प्रस्तुत करने वाले लोक गीत संगीत ने लोगों का जमकर मनोरंजन किया। वहीं रवि कुनूर और उनके साथी कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी।
कैंपस (एनपी) शार्ट फिल्मों की श्रेणी में विजेता फिल्म आपकी सुरक्षा आपकी जिम्मेदारी के लिए नीतीश कुमार, कैंपस (एनपी) डाक्यूमेंटरी फिल्मों की श्रेणी में  मिठाई मोहब्बत और दिल्ली की दास्तां के लिए कुकू वर्मा, कैंपस शार्ट फिल्म (प्रोफेशनल) में फिल्म आईना के लिए सारंगी समिथा कृष्ण कुमार, कैंपस (प्रोफेशनल) डाक्यूमेंटरी फिल्मों की श्रेणी में नेकस्ट स्टाक फोक म्यूजिक के लिए अश्वनी रंजन, बाल फिल्मों की श्रेणी फिल्म अंबारा के लिए प्रणय रमेश कुटांगले, डाक्यूमेंटरी फिल्मों की श्रेणी में गोंड जनजाति की वीरांगना रानी दुर्गावती के लिए अनिल कुमार (इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फार द आर्ट्स) को ट्राफी, नकद पुरस्कार चैक व प्रमाण-पत्र मिला।
शार्ट फिल्मों की श्रेणी में अवतरी के लिए सुबोध आनंद को विजेता का अवार्ड केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, प्रख्यात फिल्म अभिनेत्री इशा गुप्ता, ओलंपियन योगेश्वर दत्त और भारतीय चित्र साधना के अध्यक्ष डा. बीके कुठियाला ने अवार्ड के साथ प्रशस्ति पत्र और पुरस्कार राशि देकर सम्मानित किया।
इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डा.मनमोहन वैद्य, फिल्म अभिनेत्री इशा गुप्ता, फिल्म निर्देशक विपुल शाह, अमित राय, पंजाबी गायक पम्मी बाई, विधि विश्वविद्यालय सोनीपत की कुलपति डा.अर्चना मिश्रा, नरेंद्र ठाकुर, हब्बी धालीवाल, पंजाब की लोक गायिका सुक्खी बराड़, रेणु भाटिया, अतुल गंगवार, आयोजन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश कुमार, सचिव सुरेंद्र यादव, सह प्रायोजक डीबीजी टेक्नोलाजी (इंडिया) प्राईवेट लिमिटेट के कार्यकारी निदेशक अभिषेक गर्ग, एवीपीएल के दीप सिहाग, एम3एम के संस्थापक डा.एश्वर्य महाजन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com