नगर परिषद सिरसा की मतदाता सूची का हुआ प्रकाशन

गुरुग्राम पुलिस ने फर्जी डीसीपी को गिरफ्तार किया

गुरुग्राम:

 गुरुग्राम पुलिस ने फर्जी डीसीपी को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि पकड़े गए आरोपी ने गुरुग्राम में अपने आपको आईपीएस बताया और दिल्ली पुलिस के सिपाही से मारपीट की।

शुक्रवार को जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि शिकायत मिलते ही पुलिस ने दो घंटे के अंदर ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। प्रवक्ता के मुताबिक पकड़ा गया व्यक्ति रियल एस्टेट का काम करता है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि दिल्ली पुलिस में सिपाही के पद पर काम करले वाले अंकित नाम के पुलिसकर्मी ने एक लिखित शिकायत दी थी।

शिकायत में अंकित ने बताया कि 4 अप्रैल को वह गुरुग्राम के एंबियंत माॅल के सामने रिश्तेदार का इंतजार कर रहा था।

तभी आरोपी फॉरच्यूनर कार में अपने अन्य साथी के साथ आया और बिना किसी वजह के गाली गलौच और मारपीट शुरू कर दी।

अंकित ने अपनी शिकायत में बताया कि कार में दो युवक आए थे। कार में बैठा एक युवक बाहर आया और अपने आप को गुरुग्राम पुलिस का डीसीपी बताते हुए बिना की वजह के गली-गलौच, अभद्रतापूर्वक व्यवहार व मारपीट करने लगा।

मारपीट करने के बाद जाते समय धमकी देकर गया कि इस बारे में कही शिकायत की तो अभी तो थोड़ा मारा है, आइंदा जान से मार दूंगा।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि थाना डीएलएफ फेस-3 पुलिस ने मामला दर्ज कर तुरंत कार्रवाई करते हुए आरोपी को एंबियंस माॅल के सामने ही गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी की पहचान संदीप शर्मा पुत्र नरेश शर्मा निवासी मकान नम्बर एच-901, कैटरीना अपार्टमेंट्स, अम्बियन्स आइलैंड, गुरुग्राम के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

पुलिस पूछताछ में आरोपी संदीप शर्मा ने बताया कि वह रियल-एस्टेट का काम करता है और उसने दिल्ली पुलिस के सिपाही के साथ बिना किसी वजह से मारपीट की थी।

जांच में यह भी खुलासा हुआ कि इस तरह की वारदातें फर्जी डीसीपी ने माॅल में तैनात सुरक्षाकर्मियों के साथ भी पहले कर चुका है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply