जिला रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा हर घर तिरंगा अभियान के तहत निकाली गई साइकिल रैली

गीता भुक्कल – भाजपा ने भगवान व धर्म दोनों को राजनीति में धकेला

 पूर्व शिक्षा मंत्री गीता भुक्कल ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा है कि अपने स्वार्थ के लिए भाजपा ने धर्म व भगवान दोनों को ही राजनीति में धकेल दिया है।

जिसका प्रमाण है कि यूपी से भाजपा के सीएम दूसरों को अली व स्वयं को बजरंगबली बताते हैं। यह एक तरह से ओछी राजनीति है। भुक्कल गुरूवार को अपने निवास स्थान पर एक पत्रकार सम्मेलन को सम्बोधित कर रही थी।

उन्होंने रोहतक संसदीय सीट को लेकर अपनी बात रखते हुए कहा कि दीपेन्द्र के सामने बीजेपी सहित बाकि दल भी जिस नेता का नाम सलेक्ट करते है वही नेता मैदान छोड़कर भाग जाते हैं।

पत्रकारों के सवालो का जवाब देते हुए भुक्कल ने कहा कि बीजेपी ने हमेशा अपने कार्यकर्ताओं का अपमान किया है।

बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं पर भरोसा करने की बजाए दुसरे दलों से उम्मीदवार इम्पोर्ट करती है। यही कारण है कि बीजेपी को रोहतक लोकसभा से अभी तक उम्मीदवार नहीं मिल पा रहा है।

रोहतक लोकसभा बिरेंद्र डूमरखां द्वारा अपने आईएएस बेटे को उतारने की कोशिशों पर भुक्कल ने कहा कि दीपेन्द्र के खिलाफ कोई नेता मैदान में उतरे, लेकिन उनकी सेहत पर कोई असर नहीं पड़ता।

दीपेन्द्र सिंह हुड्डा इस बार पिछले चुनाव से भी ज्यादा मतों से विजय होंगे। भुक्कल ने इस दौरान सूबे के कृषि मंत्री ओपी धनखड़ को भी एक अनोखी सलाह दे डाली। 

दरसअल दो-तीन रोज से चर्चाए चल रही थी कि रोहतक लोकसभा से बीजेपी की तरफ से दीपेन्द्र के खिलाफ कृषि मंत्री ओपी धनखड़ चुनाव लड़ना चाहते है।

जिस पर भुक्कल ने बोलते हुए कहा कि मंत्री जी नवरात्रों में स्वयं को बलि का बकरा न बने। पांच साल में मंत्री जी ने विकास तो कोई कराया नहीं , किस हक से लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते है मंत्री जी।

भुक्कल ने इस दौरान जेजेपी व आप के गठबधंन पर कहा कि ऐसे गठबधंनों से प्रदेश का प्रदेश की जनता पर कोई असर नहीं पड़ता, जनता समझदार है। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply