*MCC organizes special workshop for students on World Paper Bag Day*

कृषि विज्ञान केन्द्र, पंचकूला द्वारा आयोजित पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम संपन्न

For Detailed

पंचकूला, 9 मार्च  : चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि विज्ञान केन्द्र, की संयोजिका डॉक्टर श्रीदेवी के नेतृत्व में आज दो अलग-अलग विषयों ‘‘बेकिंग ऑफ वैल्यू एडिड प्रोडक्ट्स स्पेशली मिलेट्स‘‘ एवम ‘‘फल व सब्जी परीक्षण‘‘ पर प्रशिक्षण संपन किया गया। यह पांच दिवसीय प्रशिक्षण आज कॉर्स डायरेक्टर्स डॉक्टर अंजू मनोचा, डॉक्टर वंदना, व डॉक्टर गुरनाम सिंह के द्वारा आयोजित किया गया।


     प्रशिक्षण में पंचकूला जिले के विभिन्न गांवों के अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति परिवार के 90 प्रतिभागियों को शामिल किया गया।
      इस अवसर पर कृषि विज्ञान केंद्र, अंबाला ,एमएमआईसीटी और बीएम एचएम मौलाना, एसएमएमडी गवर्नमेंट संस्कृत कॉलेज  से आमंत्रित वक्ताओं ने प्रतिभागियों को विभिन्न बेकरी उत्पाद मिलेट्स तथा फल एवं सब्जी परीक्षण के बारे में तकनीकी जानकारी डेमोंसट्रेशन के माध्यम से दी।


     प्रशिक्षण के दौरान प्रतिभागियों का परसंस्करण इकाई पर भ्रमण करवाया गया,  जहां सभी प्रतिभागियों ने बड़ी रुचि के साथ वहां तैयार किया जा रहे उत्पाद जैसे जैम, जैली, मुरब्बा, अचार आदि तमाम उत्पादों की उत्पादन तकनीकों को बारीकी से समझा।
 इसके साथ-साथ मूल्य संबंधित उत्पादों की मार्केटिंग, पैकेजिंग सहित रखरखाव के बारे में भी विस्तृत जानकारी कार्यक्रम में दी गई।
   इस अवसर पर  कृषि विज्ञान केंद्र  से डॉ राजेश लाठर ने फल एवं सब्जी में मौजूद बहुमूल्य विटामिंस ,मिनरल्स, एंटीऑक्सीडेंट और पोषक तत्व जैसे विटामिन ए, बी,सी, डी और आई केरोटेनाईडस इत्यादि के बारे में जानकारी दी।
 प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए केंद्र की प्रभारी डाक्टर श्रीदेवी तल्लापरागडा ने कहा कि बेरोजगार युवक- युवतियों के लिए स्वरोजगार के नजरिया से भी यह सेक्टर फायदेमंद साबित हो सकता है। उन्होने कहा कि प्रशिक्षण के उपरांत सभी प्रतिभागी अपना काम शुरू करें तथा अपने परिवार की आय बढ़ाने में अपनी सहभागिता दर्ज करें।
   इस अवसर पर प्रशिक्षण के उपरांत प्रतिभागियों ने आश्वासन दिया कि वह कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा दिए गए इस प्रशिक्षण का भरपूर लाभ उठाकर अपने जीवन को बेहतर बनाएंगे।

https://propertyliquid.com