Water Supply Shut Down on 2nd December

किसानों को समय पर किया जा रहा सरसों की फसल का भुगतान :आनंद मोहन शरण

सिरसा, 10 अप्रैल।

12 अप्रैल तक किया जाएगा सरसों खरीद के लिए पंजीकरण, 22 हजार 924 किसानों ने करवाया अब तक रजिस्ट्रेशनजिला की मंंडियोंं में अब तक 10 हजार 788 मीट्रिक टन सरसों की हुई आवक 

किसानों को सरसों फसल का भुगतान निर्धारित 72 घंटे में सुनिश्चित किया गया है और खरीद के लिए पु ता प्रबंध भी सुनिश्चित किए गए हैं। जो किसान पंजीकरण से वंचित रह गये हैं, उन किसानों की सुविधा के लिए विंडो सिस्टम बनाया गया हैं, जहां पर वे 12 अप्रैल तक अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। 

यह जानकारी स्थानीय शहरी निकाय विभाग के प्रधान सचिव आनंद मोहन शरण ने आज सुरखाब पर्यटन केंद्र में आयोजित एक प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए दी। प्रेसवार्ता में जिला उपायुक्त प्रभजोत सिंह, अतिरिक्त उपायुक्त मनदीप कौर, डीएफएससी अशोक बंसल भी उपस्थित थे।

उन्होंने कहा कि किसान की फसल का एक-एक दाना निर्धारित समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएगा बशर्ते किसान अपना रजिस्ट्रेशन अवश्य करवा ले। उन्होंने कहा कि खरीद व्यवस्था को सुनिश्चित व सुचारू बनाने के लिए अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए हैं। रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में हो रही देरी पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि पहले जहां प्रत्येक मंडी में एक-एक लोगिन आईडी दी गई थी जिससे रजिस्ट्रेशन प्रकिे्रया में ज्यादा समय लग रहा था। इस समस्या के निदान के लिए अब सभी चारों सदस्यों को लोगिन आईडी के लिए संबंधित विभाग को लिखा गया है और उ मीद है कि आज शाम तक लोगिन आईडी उपलब्ध हो जाएगी। इसके अलावा इस कार्य में लगे कर्मचारियों को भी टीम वर्क और तालमेल के साथ कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं। 

उन्होंने कहा कि अब तक जिला की विभिन्न मंडियों में सरसों की लगभग 10 हजार 788 मीट्रिक टन की आवक हो चुकी है और इसकी खरीद भी की जा चुकी है। उठान के संबंध में पूछे एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने सरसों खरीद के लिए व्यापक प्रबंध किए हैं, जिससे खरीद का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है और उठान भी समय पर किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि किसानों को उनकी फसल का भुगतान 72 घंटे में किया जा रहा है। मापतोल बारे किए गए एक प्रश्न के जवाब मेें उन्होंने कहा कि मैन्यूवल कांटो की जगह इलैक्ट्रोनिक कांटो को उपयोग में लाने के लिए व्यापारियों व खरीद ऐजेंसियों को हिदायत दी गई है। उन्होंने कहा कि मंडियों व खरीद केंद्रों में आने वाले अनाज की समुचित व्यवस्था के लिए पु ता प्रबंध किए गए है।

गेंहूं की आवक बारे पूछे गए सवाल के जवाब में श्री शरण ने कहा कि आगामी दो तीन दिनों में गेंहूं की फसल मंडियों में आनी शुरू हो जाएगी। इसके लिए भी प्रशासन द्वारा व्यापक स्तर प्रबंध कर लिए गए हैं। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि वे अपनी फसल को सुखाकर व अच्छी तरह साफ करके लाएं ताकि आते ही समर्थन मूल्य पर खरीद सुनिश्चित हो सके। गेंहूं के भंडारण के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि चारों खरीद ऐजेंसियों द्वारा की जाने वाली गेंहूं खरीद के समुचित भंडारण की व्यवस्था कर ली गई है। चंूकि इस बार ब पर उत्पादन होने की उ मीद है, इसलिए खुले में भी अनाज को रखने के लिए के्रटर आदि की व्यवस्था की गई है। लेकिन हमारी प्राथमिकता गेंहूं को गोदाम में भंडारण की रहेगी। इससे पूर्व श्री आंनद मोहन शरण ने खरीद से जुड़े अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता की और इसके उपरांत उन्होंने डिंग व सिरसा अनाज मंडी का दौरा कर खरीद का निरीक्षण किया।   

प्रेसवार्ता में जिला उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने बताया कि गांव मोचीवाला के किसानों की शिकायत थी कि उनका गांव रोस्टर में नहीं डाला गया है, जिसे अब रोस्टर में डाल दिया गया है। इसके अलावा 8 से 13 अप्रैल तक खरीद से वंचित रह गए किसानों के लिए 14 अप्रैल विशेष दिन उपलब्ध करवाकर उनकी फसल खरीदी जाएगी। उपायुक्त ने कहा कि सभी शैड खाली करवा लिए गए हैं। इसके अलावा आवारा पशुओं से भी निपटने के लिए कमेटी द्वारा व्यापक प्रबंध किए गए हैं।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply