*किसानों की आमदनी बढाने के लिए चलाई जा रही अनेक योजनाएं*

कल होगी मतगणना, 20 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

सिरसा 22 मई।

प्रशासन की सभी तैयारियां मुकम्मल, कड़ी सुरक्षा के बीच होगी मतों की गणना

लोकसभा आम चुनाव के मतों की गिनती 23 मई को की जाएगी। इसी कड़ी में जिला सिरसा के पांच विधानसभा क्षेत्रों के वोटों की गिनती सी.डी.एल.यू में बनाए गए मतगणना केंद्रों में की जाएगी। प्रशासन की ओर से मतगणना प्रक्रिया के सफलतम समापन के लिए तमाम तैयारियां पूर्ण कर ली गई है।

उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने बताया कि लोकसभा आम चुनाव का मतदान जिला सिरसा में बहुत ही शांतिप्रिय व सफलतापूर्वक रहा। चुनाव में लगे कर्मचारियों व अधिकारियों ने जिस प्रकार मतदान प्रक्रिया में अपनी ड्यूटी को कर्तव्यनिष्ठा व ईमानदारी के साथ निभाया है, ठीक उसी प्रकार मतगणना प्रक्रिया को भी सफलतापूर्वक पूरा करेंगे। उन्होंने बताया कि सिरसा लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले जिला के पांच विधानसभा क्षेत्रों के मतों की गिनती चौधरी देवीलाल यूनिवर्सिटी में बने मतगणना केंद्रों में की जाएगी। मतगणना प्रक्रिया सुचारू रूप से हो और किसी प्रकार की कोई व्यवधान या बाधा ना आए इसके लिए अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया है। सुरक्षा की दूष्टि से भी सभी इंतजाम पुख्ता कर लिए गए हैं।

इन मतगणना केंद्रों पर होगी गिनती :

लोकसभा चुनाव के मतों की गणना 23 मई को प्रात: 8 बजे शुरू की जाएगी। चौधरी देवीलाल यूनिवर्सिटी में पांचों विधानसभा क्षेत्र के लिए अलग-अलग मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। अम्बेडकर भवन में कालांवाली विधानसभा क्षेत्र, मल्टीपर्पज हॉल डबवाली विधानसभा क्षेत्र, लाल बहादुर शास्त्री भवन में रानियां विधानसभा क्षेत्र, मल्टीपर्पज हॉल में सिरसा विधानसभा क्षेत्र तथा अम्बेडकर भवन के लाईब्रेरी हॉल में ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के मतों की गणना की जाएगी। 

पहले पोस्टल बैलेट पेपर तथा बाद में होगी वीवीपैट के पर्चियों की गिनती :

चुनाव की मतगणना के लिए पहले पोस्टल बैलेट व ईवीएम की कंट्रोल यूनिट के मतों की गणना करवाई जाएगी। इसके पश्चात प्रत्येक विधानसभा सेग्मेंट की 5-5 वीवीपैट मशीनों का रेंडमली चयन करके उनकी पर्चियों की गिनती की जाएगी। सभी मतगणना केन्द्रों में 14-14 मेजें लगाई गई हैं। सबसे पहले पोस्टल बैलेट पेपरों की गिनती होगी, इसके लिए दो अतिरिक्त अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। मतों की गणना टेबल की क्रमानुसार होगी। अर्थात एक नम्बर टेबल पर एक नम्बर बूथ की गणना होगी और दूसरे राऊंड में 15 नम्बर बूथ की गिनती एक नम्बर टेबल पर होगी। प्रत्येक टेबल पर तीन कर्मचारी रहेंगे।

सुरक्षा व्यवस्था रहेगी चाकचौकंद :

मतगणना केंद्रों से लेकर शहर के चप्पे-चप्पे पर होगी पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था

मतगणना केन्द्र के आस-पास लगाई धारा-144 रहेगी। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिलाधीश ने 23 मई मतगणना के दिन सीडीएलयू में स्थापित मतगणना केन्द्र व आस-पास के क्षेत्र में धारा-144 लागू की है। यह मतगणना की समाप्ति तक लागू रहेगी। इस दौरान नजदीक की दुकाने तथा शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। पुलिस द्वारा भी मुख्य रास्तों की नाकाबंदी की गई है। कोई भी व्यक्ति नियमों की अवहेलना ना करे, इसके लिए डयूटी मजिस्ट्रेट की नियुक्ति की गई है और इन आदेशों की पालना जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा की जाएगी।

मतदान केंद्रों में बिना अधिकृत कार्ड के नहीं होगा प्रवेश :

प्रत्येक मतदान केंद्र पर सुरक्षा के लिहाज से पुख्ता व्यवस्था की गई है। मतगदान केंद्रों पर तीन स्तरीय सुरक्षा घेरा बनाया गया है। हर स्तर पर सुरक्षा के लिए एक ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है। मतगणना केंद्र में प्रवेश के लिए मतगणना में लगे कर्मियों के लिए पास जारी किए गए हैं। बिना पास के किसी को भी अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी। मतगणना केंद्र में पैन, पैंसिल, चाबी तथा अन्य किसी भी प्रकार की नुकीली या नुकसान पहुंचाने वाली वस्तु नहीं ले जाने पर पाबंदी रहेगी। 

टीवी से पहले यहां देख सकेंगे परिणाम :

वोटर हेल्पलाइन एप पर टीवी से भी पहले लोकसभा आम चुनाव-2019 के परिणाम देखे जा सकेंगे। इसके लिए कोई भी व्यक्ति अपने मोबाइल में वोटर हेल्पलाइन एप इंस्टॉल कर सकता है। इस बार चुनाव के नतीजे तेजी से सार्वजनिक करने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने एक वोटर हेल्पलाइन नामक नया एप बनाया है जिसके माध्यम से जनता को टेलीविजन से भी पहले चुनाव के परिणाम प्राप्त होंगे।
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने बताया कि मतगणना का विवरण प्रशासन द्वारा सुविधा पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा जो वो वोटर हेल्पलाइन एप पर प्रदर्शित होगा। जिन व्यक्तियों ने अपने मोबाइल में वोटर हेल्पलाइन एप इंस्टॉल किया हुआ है वे तुरंत मतगणना का विवरण इस एप के माध्यम से देख सकेंगे। उन्होंने बताया कि किसी भी एंड्रॉयड फोन में गूगल प्ले स्टोर से वोटर हेल्पलाइन एप इंस्टॉल किया जा सकता है।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply