*MCC organizes special workshop for students on World Paper Bag Day*

उपायुक्त ने लिटेरा हैरिटेज स्कूल एक्सटैंशन- 2 सैक्टर-14 के वार्षिक समारोह में दीप प्रजव्वलित कर मुख्यअतिथि के रूप में करी शिरकत

माता पिता व गुरूओं के सम्मान से ही हम उच्च पदों और बडे लक्ष्य को कर सकते है हासिल- उपायुक्त

श्री सारवान ने मातृ शक्ति को किया नमन, मातृ शक्ति घर और बच्चों के भविष्य की निर्माता

For Detailed

पंचकूला, 17 फरवरी- उपायुक्त श्री सुशील सारवान ने आज पंचकूला- बरवाला हाईवे स्थित लिटेरा हैरिटेज स्कूल एक्सटैंशन- 2 सैक्टर-14 के वार्षिक समारोह में दीप प्रजव्वलित कर मुख्यअतिथि के रूप में शिरकत की। श्री सारवान ने कहा कि हमें गुरूओं की दी गई शिक्षाओं का अनुसरण करना चाहिए।
इस अवसर पर लिटेरा हैरिटेज स्कूल की प्रिंसिपल अमिता सिंगला व पूर्व चीफ इंजिनियर किशोर अग्रवाल भी उपस्थित थे।


उपायुक्त ने विद्यार्थियों को संबोधित हुए कहा कि आज लिटेरा हैरिटेज स्कूल केे वार्षिक उत्सव में पहुंचकर वे खुशी का अनुभव कर रहे है। उन्होने अपने अनुभव संाझा करते हुए कहा कि वे आज जों कुछ भी है, माता पिता व गुरूओं की बदौलत है। दुनिया के किसी भी शिक्षक ने दो और दो चार पढाया है, दो और दो पांच कभी नही पढाया। हम सभी को माता पिता व गुरूओं का सम्मान करना चाहिए तभी हम उच्च पदों और बडे लक्ष्य को हासिल कर सकते है।
श्री सारवान ने वार्षिक उत्सव में बैठी मातृ शक्ति को भी नमन करते हुए कहा कि मातृ शक्ति घर और बच्चों के भविष्य की निर्माता है। माताएं साल के 365 दिन व्यस्त रहती है, कभी भी छुटटी नही करती। अपने बच्चों के लिए दिन रात एक कर मेहनत करती है ताकि उनका बच्चा समाज में तरक्की और बडा पद हासिल कर सके।


उन्होने स्कूल के चैयरमेन श्री नरेंद्र सिंगला को लिटेरा हैरिटेज स्कूल शहर और गांव के मिश्रण के लिए बधाई दी। उन्होने कहा कि इस स्कूल के माध्यम से नरेंद्र सिंगला ने गांव के बच्चों को भी अच्छी व किफायती शिक्षा हासिल करने का सुनहरी अवसर प्रदान किया है। इस अवसर पर स्कूल के विद्याार्थियों ने विभिन्न रंगारग कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी और दर्शकों ने सभी का गडगडाती तालियों से मनोबल बढाया।
लिटेरा हैरिटेज स्कूल के चैयरमेन श्री नरेंद्र सिंगला ने बताया कि उनका स्कूल रक्तदान शिविर, स्वास्थय शिविर के माध्यम से लोगों के निशुल्क स्वास्थ्य की जांच जैसे कार्यक्रमों का आयोजन करवा रहा है। उन्होने बताया कि आखों का कैंप स्कूल में लगाकर बुर्जुगों को निशुल्क चश्में वितरित किए गए। उन्होने बताया कि कोरोना काल में भी उन्होने कोविड रोगियों को माश्क, सैनिटाईजर व भोजन के माध्यम से कोरेाना रोगियों की मदद की। 11वीं के विद्याार्थी केशव व नाहरा ने अपनी एंकरिग से दशर्को की वाहवाही लूटी।


इस अवसर पर मनोज एजुकेशन वैलफेयर सोसाईटी के सदस्य ललित, निर्मल सिंगला व अरूण सिंगला व लिटेरा हैरिटेज स्कूल के अध्यापक मीना शर्मा, रिम्पी, नेहा, मोनिका भी उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com