*MCC organizes special workshop for students on World Paper Bag Day*

उपायुक्त एवं माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य प्रशासक ने चैत्र नवरात्र मेले के आयोजन को लेकर बैठक की करी अध्यक्षता

मेले के सफल आयोजन के लिये अधिकारियों को दिये दिशा निर्देश

नवरात्र मेला में प्रदेश के साथ- साथ देशभर से माता के दर्शन के लिये आएंगे लाखों श्रद्धालु – उपायुक्त

व्यवस्था बनाए रखने के लिए 13 स्थानों पर लगाए जाएंगे पुलिस नाके – श्री सुशील सारवान

For Detailed

पंचकूला, 15 मार्च – उपायुक्त एवं माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य प्रशासक श्री सुशील सारवान ने 9 अप्रैल से 17 अप्रैल तक आयोजित होने वाले चैत्र नवरात्र मेला के आयोजन को लेकर आज माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के कार्यालय में आयोजित बैठक की अध्यक्षता की तथा विभिन्न विभागों के अधिकारियों को सभी आवश्यक प्रबन्ध पूरे करने के निर्देश दिये।
श्री सुशील सारवान ने कहा कि चैत्र नवरात्र मेला में प्रदेश के साथ- साथ देशभर से लाखों श्रद्धालु माता के दर्शन के लिये आते है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि श्रद्धालुओं की सुविधा के लिये सभी आवश्यक प्रबंध मेला से पूर्व किये जाये ताकि एक व्यवस्थित तरीके से श्रद्धालु माता के दर्शन कर सकें। उन्होंने कहा कि लोगों की माता मनसा देवी में आपार आस्था है और अनेक श्रद्धालु नगें पांव और दंडवत से माता के दर्शन करते है। उन्होंने हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और नगर निगम को सिंह द्वार से माता मनसा देवी मंदिर तक आवश्यकतानुसार सड़कों का पैचवर्क और मरम्मत का कार्य करने के निर्देश दिये ताकि श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की असुविधा ना हो। उन्होंने कहा कि श्राईन बोर्ड द्वारा वरिष्ठ नागरिकों, गर्भवती महिलाओं और निशक्त जनों के लिये माता के दर्शन करने की उचित व्यवस्था की जाए।
      उपायुक्त ने बताया कि मेला की व्यवस्था बनाए रखने के लिए 13 स्थानों पर पुलिस नाका लगाया जाएगा। मेला स्थल को तीन जोन में बांटा जाएगा। मेला परिसर में एक कंट्रोल रूम भी स्थापित किया जाएगा। पार्किंग व अन्य स्थानों पर भी पुलिस की तैनाती रहेगी। हर जोन में डयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया जाएगा। उन्होेंने निर्देश दिये कि मेले के दौरान प्लास्टिक कैरीबैग के इस्तेमाल पर पूर्णतः अंकुश लगाने के लिए हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और नगर निगम द्वारा एक संयुक्त अभियान चलाया जाए।
श्री सुशील सारवान ने निर्देश दिये कि मेले के दौरान माता मनसा देवी मंदिर, काली माता मंदिर कालका व चंडी माता मंदिर में 24 घंटे बिजली की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि बिजली विभाग मंदिर परिसर में बिजली की आवश्यकता का आंकलन करे और अगर आवश्यकता हो तो अतिरिक्त जैनसैट की व्यवस्था की जाए ताकि श्रद्धालुओं को कोई असुविधा न हो।
उपायुक्त ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंदिर की लाईब्रेरी में स्थित डिस्पेंसरी में शिफ्ट के अनुसार 24 घंटे डाॅक्टरों की टीम की तैनाती की जाए। इसके अलावा मंदिर और डिस्पेंसरी के समीप एक-एक एंबुलेंस का प्रबंध किया जाए ताकि किसी भी आपातकालीन स्थिति में मरीज को समय पर अस्पताल पहुंचाया जा सके। साथ ही आयुष और राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान (एनआईए) द्वारा भी मेडिकल शिविर का आयोजन किया जाए।
उन्होंने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग को निर्देश दिये कि दूषित जल से होने वाली बीमारियों की रोकथाम के लिए माता मनसा देवी मंदिर परिसर में लगी सभी पानी की टंकियों की उचित साफ-सफाई की जाए। इसके अलावा मेले के दौरान पानी की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए प्रतिदिन सुबह और शाम पानी के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे जाएं। इसी प्रकार उन्होंने निर्देश दिये कि खाद्य सुरक्षा अधिकारी लंगर और प्रसाद की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए सैंपल लेकर जांच के लिए भेजेंगे।
उपायुक्त ने निर्देश दिये कि हरियाणा रोडवेज और सीटीयू द्वारा श्रद्धालुओं को मंदिर तक लाने-लेजाने के लिए प्रयाप्त बसों की व्यवस्था की जाये। बैठक में बताया गया कि हरियाणा रोडवेज द्वारा श्रद्धालुओं के लिये विशेष बस सेवा शुरू की जायेगी। इलेक्ट्रिक बसों का रूट भी माता मनसा देवी मंदिर तक चलाया जाएगा।
बैठक में माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अशोक कुमार बंसल, सचिव शारदा प्रजापति, काली माता मंदिर कालका के सचिव पृथ्वीराज, एसीपी पंचकूला रजनीश कुमार, एचएसवीपी के कार्यकारी अभियंता एनके पायल, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता आशीश चैहान, हरियाणा रोडवेज महाप्रबन्धक अशोक कौशिक, जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी नरेश कुमार, सीएमओ कार्यालय से उप सिविल सर्जन डाॅ. विकास गुप्ता, फायर सर्विस पंचकूला से एएफएसओ मामराज, श्राइन बोर्ड के एसडीओ राकेश पहूजा भी उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com