Seminar on Academic writings concluded at PU

धान की फसल के अवशेष जलाने पर उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने लगाया प्रतिबंध

फसल के अवशेष जलाने पर लगाया जायेगा भारी जुर्माना 

प्ंाचकूला, 12 अक्तूबर –     धान की फसल के अवशेष जलाने पर उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है। उन्होंने यह आदेश भारतीय दण्ड प्रक्रिया नियमावली 1973 की धारा 144 के अन्तर्गत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए जारी किये हैं। इन आदेशों की उल्लघंना करने वाले किसानों पर जुर्माना लगाया जायेगा। 

उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने उक्त निर्देश जारी करने के बाद बताया कि धान की फसल की कटाई शुरू हो चुकी है और कई किसान धान की फसल की कटाई के बाद अवशेषों को जला देते हैए जिससे उत्पन्न धुंआ स्मोग मानव स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है। उन्होंने जिला के किसानों से कहा है कि वे फसल अवशेषों को जलाने की बजाय इसका प्रयोग फसल चारे के रूप में करें। उन्होंने कहा कि फसल अवशेष जलाने से भूमि के मित्र कीट भी मर जाते हैए जिससे भूमि की उर्वरा शक्ति कमजोर हो जाती हैए जिससे फसल की पैदावार पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है, इसलिए कोई भी किसान फसलों के अवशेष न जलायें।

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय हरित न्यायधिकरण द्वारा फसल अवशेष जलाने पर प्रतिबंध लगाने के निर्देश जारी किये गये है। जारी आदेशों में स्पष्ट कहा गया है कि अगर कोई किसान फसल अवशेष जलाता है तो उसके खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 वायु बचाव एवं प्रदुषण नियन्त्रण अधिनियम 1981 के तहत कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। उन्होंने कहा कि जारी आदेश अक्तूबर व नवम्बर दो माह तक लागू रहेंगे। उन्होंने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे इन आदेशों का अधिकाधिक प्रचार एवं प्रसार करवाना सुनिश्चित करें ताकि हर व्यक्ति को इन आदेशों की जानकारी प्राप्त हो सके। 

जिला की परिधि में किसी भी सूरत में फसल अवशेष न जलाये जा सके, इसके लिए संबंधित विभाग के कर्मचारी गांवों में फसल अवशेष जलाने पर पूरी निगरानी रखेंगे और अगर कोई किसान फसल अवशेष जलाता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे।

Watch This Video Till End….

Seminar on Academic writings concluded at PU

21 अक्तूबर को वोट डालने के लिए जिला के बुजुर्गों को प्रेरित करने के लिए ब्राण्ड एंबेसडर नियुक्त जे.पी. कौशिक सेवानिवृत आई.ए.एस और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की संपदा अधिकारी ममता शर्मा ने सैक्टर-20 स्थित श्री सांई कोओप्रेटिव ग्रुप हाऊसिंग सोसाईटी में कार्यक्रम आयोजित कर बुजुर्गों को मतदान के प्रति जागरूक किया।

पंचकूला,12 अक्तूबर- 21 अक्तूबर को वोट डालने के लिए जिला के बुजुर्गों को प्रेरित करने के लिए ब्राण्ड एंबेसडर नियुक्त जे.पी. कौशिक सेवानिवृत आई.ए.एस और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की संपदा अधिकारी ममता शर्मा ने सैक्टर-20 स्थित श्री सांई कोओप्रेटिव ग्रुप हाऊसिंग सोसाईटी में कार्यक्रम आयोजित कर बुजुर्गों को मतदान के प्रति जागरूक किया। 

सोसाईटी के बुजुर्गों को संबोधित करते हुए उन्हेनंे कहा कि मतदान दिवस को महोत्सव के तौर पर मनाएं। मतदान करने के दौरान प्रसन्नतापूर्वक और गौरव की भावना से जाएं। संविधान के द्वारा हमें मतदान करने का महत्वपूर्ण अधिकार मिला हैं। हजारों वर्षो तक विदेशी शासकों के साथ संर्घष के बाद हमें आजादी की खुली हवा में सांस लेने का अवसर मिला है। इस अधिकार के लिए हमारे पूर्वजों ने खून बहाया। इसलिए इस इतने महत्वपूर्ण अधिकार को कंधे हिला कर- क्या फर्क पड़ता हैं मेरे वोट से- की भावना से बेकार नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि बूंद-बूंद से ही सागर भरता है। मतदान के प्रति उदासीन ना रहंे।  उन्होंनें कहा कि वोट डालने के प्रतिशत के अनुपात से ही लोकतंत्र की दिशा मजबूत होती है। लोकतंत्र की मजबूती से ही देश भी मजबूत होता है। उन्होंनें कहा कि हमारे देश में बुजुर्गों को सम्मान देने की परंम्परा रही है। हर अच्छी बात के लिए बुजुर्गों का अनुसरण किया जाता हैं। इसलिए सभी बुजुर्ग इस मतदाता जागरूकता अभियान के सिपाही बन  कर नौजवानों और परिवार के अन्य सदस्यों को वोट डालने का आर्शीवाद देकर 21 अक्तूबर को अपने-अपने घरों से रवाना कर पोलिंग बूथ तक पहुंचाए। उन्होंनें कहा कि भले ही ये बुजुर्गं अपने-अपने कामों से सेवानिवृत हो गए हैं, परंतु अभी भी वहीं परिवार और देश के मार्गदर्शक हैं। अपनी इस भूमिका में वे ही देश की दिशा और दशा को तय करते हैं। इसलिए अंतयंत उत्साह से न केवल खुद वोट डाले अपितु परिवार के अन्य सदस्यों व सहयोगियों को भी मतदान के प्रति प्रेेरित करें। इस अवसर पर ग्रुप हाऊसिंग सोसाईटी के अघ्यक्ष आर.के. शर्मा,डी.बी.शर्मा,ं अमित महाजन, कपिल बंसल, पुष्पा लता, उषा शर्मा सहित अनेक बुजुर्ग उपस्थित थे। 

Watch This Video Till End….

Seminar on Academic writings concluded at PU

विधानसभा सिरसा, रानियां व डबवाली के पीओ व एपीओ को दी गई ट्रेनिंग

सिरसा, 12 अक्तूबर।


            विधानसभा आम चुनाव-2019 की मतदान प्रक्रिया को सुव्यवस्थित ढंग से संपन्न करवाने के लिए सिरसा, सिरसा, रानियां व डबवाली विधानसभा क्षेत्रों में नियुक्त किए गए प्रीजाइडिंग ऑफिसर्स (पीओ), अल्टरनेट प्रीजाइडिंग ऑफिसर्स (एपीओ) व अन्य टीमों को आज चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के मल्टीपर्पज हॉल में दो चरणों में आयोजित मेगा रिहर्सल में चुनाव प्रक्रिया की बारीकियां समझाई गईं।


                ईवीएम मास्ट्रर ट्रेनरों ने सभी पीओ-एपीओ को उनके प्रत्येक कार्य और जिम्मेदारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर सामान्य पर्यवेक्षक वेट्री सेल्वी, रिटर्निंग अधिकारी सिरसा जयवीर यादव, रिटर्निंग अधिकारी रानियां राजेंद्र, नगराधीश कुलभूषण बंसल, तहसीलदार चुनाव राम निवास सहित ड्यूटी मजिस्ट्रेट, सैक्टर ऑफिसर भी मौजूद थे।


इस मौके पर रिटर्निंग अधिकारी सिरसा जयवीर यादव ने कहा कि पीओ व एपीओ की जरा सी चूक पूरी व्यवस्था की विफलता मानी जाएगी इसलिए सभी अधिकारी अपनी जिम्मेदारी की गंभीरता को समझें। उन्होंने कहा कि पीओ हैंडबुक में वे सारी हिदायतें व नियम लिखे हैं जिनकी जानकारी चुनाव करवाने वाले अधिकारी को होनी जरूरी है। उन्होंने कहा कि वरिष्ठï नागरिकों व दिव्यांगजनों को बिना लाइन में लगे सीधे अंदर जाकर मतदान करने की सुविधा दी जाए।


                उन्होंने कहा कि निष्पक्ष व पारदर्शी चुनाव करवाने में उनकी भूमिका सर्वाधिक महत्वपूर्ण होगी। इसलिए वे मतदान से जुड़ी पूरी प्रक्रिया को अच्छी प्रकार से समझें और सभी नियमों व कानूनों की पूरी जानकारी प्राप्त कर लें। उन्होंने बताया कि 21 सितंबर को विधानसभा चुनाव के लिए सुबह 7 से सायं 6 बजे तक मतदान होगा। इससे एक घंटा पूर्व 6 बजे पोलिंग एजेंट्स की मौजूदगी में मोक पोल करवाया जाएगा। उन्होंने हिदायत दी कि मोक पोल की प्रक्रिया संपन्न होने के बाद ईवीएम मशीन को क्लीयर करना न भूलें। इसी प्रकार मतदान संपन्न होने के बाद मशीन को क्लोज करना भी बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि यदि कोई समस्या आती है तो उसे अपने स्तर पर हल करें, यदि समाधान नहीं होता तो उच्च अधिकारियों को सम्पर्क करें। उन्होंने कहा कि सभी पीओ हर दो घंटे के अंतराल पर मतदान प्रतिशत और वोट संख्या की जानकारी पीओ डायरी में नोट करेंगे तथा इसकी सूचना नियंत्रण कक्ष में भी भिजवाना सुनिश्चित करेंगे।

Watch This Video Till End….

Seminar on Academic writings concluded at PU

मतदाता पहचान पत्र के अलावा 11 अन्य दस्तावेजों का कर सकते हैं प्रयोग

सिरसा, 12 अक्तूबर।

                   कोई भी मतदाता अपने मताधिकार के प्रयोग से वंचित न हो, इसके लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदाता पहचान पत्र के अलावा विकल्प के तौर पर 11 दस्तावेज निर्धारित किए हैं।


                   यह जानकारी देते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने बताया कि जिस मतदाता का नाम मतदाता सूची में दर्ज हैं, लेकिन उसके पास मतदाता पहचान पत्र नहीं है, वो भी मतदान कर सकता है। इसके विकल्प के तौर पर भारत निर्वाचन आयोग ने 11 दस्तावेज निर्धारित किए हैं। इनमें पासपोर्ट, ड्राईविंग लाईसैंस, हरियाणा सरकार व केंद्र सरकार द्वारा जारी किया गया कर्मचारी पहचान पत्र, बैंक व पोस्ट आफिस द्वारा जारी किए गए स्मार्ट कार्ड, पैन कार्ड, एनपीआर के अंतर्गत आरजीआई द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, हैल्थ इंश्योरेंस स्मार्ट कार्ड, फोटो सहित पैंशन दस्तावेज, सांसद, विधायक कार्यालय द्वारा पहचान पत्र तथा आधार कार्ड दिखाकर मतदान कर सकता है। उन्होंने जिला वासियों से अपील की कि वे 21 अक्तूबर को सुबह 7 से सायं 6 बजे तक होने वाले मतदान में अधिक से अधिक संख्या में भाग लें जिला की मतदाता प्रतिशत्ता को बढाएं।

Watch This Video Till End….

Seminar on Academic writings concluded at PU

मतदान के लिए 21 अक्तूबर को रहेगा वैतनिक अवकाश : जिला निर्वाचन अधिकारी

सिरसा, 12 अक्तूबर।


               जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने बताया कि विधानसभा आम चुनाव-2019 के लिए 21 अक्तूबर को मतदान के दिन वैतनिक अवकाश रहेगा।


                   उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने बताया कि जनप्रतिनिधि अधिनियम की धारा 135 बी के तहत 21 अक्तूबर को वेतन सहित अवकाश घोषित किया गया है ताकि सभी मतदाताओं को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने का अवसर मिल सके। उन्होंने बताया कि मतदान के दिन सभी दुकानें, वाणिज्य संस्थान, भवन निर्माण इकाइयां और औद्योगिक संस्थान पूर्णतया बंद रहेंगे तथा कर्मचारियों को इस दिन का पूरा वेतन दिया जाएगा।


                   उन्होंने बताया कि आपातकालीन सेवाओं में कार्यरत कर्मचारियों को भी अपने मत प्रयोग करने का पूरा अवसर दिया जाएगा तथा शहर से बाहर या दूसरे विधानसभा क्षेत्रों से आने वाले कर्मचारियों को मतदान के लिए अपने गृहक्षेत्र में जाने की छूट होगी जिसके लिए नियोक्ता द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था की जाएगी।

Watch This Video Till End….

Seminar on Academic writings concluded at PU

3 Days International Seminar commenced today at PU

Chandigarh: 

Three Days International Seminar on “Glorious Legacy of Guru Nanak in the Era of Globalization” was inaugurated here today to celebrate the 550th birth anniversary of Guru Nanak Dev Ji.


Shri G.S. Gill, Former Additional Advocate General, Rajasthan in his inaugural address, elaborated upon the legacy of Guru Nanak’s teachings by explaining the important historical events of Guru’s life.


Prof Gurinder Singh Mann, Santa Barbara University, California, USA in his keynote address, highlighted the multidimensional perspectives of Guru Nanak’s philosophy historically and geographically by giving stress on Guru’s teachings of truth, equality of humans, peace, women rights and brotherhood.


Prof Shankar Ji Jha, Dean of University Instructions and Officiating Vice Chancellor, Panjab University, in his presidential remarks stressed on adopting Guru’s philosophy in daily lives.

Watch This Video Till End….


Prof. Karamjeet Singh, Registrar, Panjab University, Chandigarh while introducing the seminar theme stressed on implementation of principles of  Shri Guru Nanak. While quoting from Gurubani, he added that the message of controlling ego and ensuring welfare of all is clearly mentioned in Shri Guru Granth Sahib which should be followed
by all. He elaborated the concept of “Kirat Karo, Nam Japo te Vand Chhako”.  Prof Jatinder Grover, Dean, Faculty of Education, welcomed the international and national delegates.


Second session was devoted to the theme “Spiritual Foundations of Humanism and Sikhism”. It was chaired by Dr. N.S. Virk, Deputy Chairman, Punjabi Sahitya Academy, Haryana who spoke on his experiences of adopting Guru Nanak’s messages of mental and spiritual realization. Prof Balkar Singh, Punjabi University, Patiala and Prof Yograj Angrish, Punjab University, Chandigarh were distinguished speakers on the dice. Papers were presented on the theme by the faculty and research scholars arrived from different parts of India. Second session’s proceedings were coordinated by Prof Uma Sethi, Panjab University, Chandigarh.


Third session was devoted to the theme “Guru Nanak’s Concept of Egalitarian Society”. It was chaired by Prof Sukhdev Singh Sirsa, Panjab University, Chandigarh who stressed on the social relevance of Guru Nanak’s teachings. Prof Sohinder Bir Singh, Guru Nanak Dev University, Amritsar; Prof Paramvir Singh, Punjabi University, Patiala and Shri Kesar Singh Neer, Calgary, Canada were distinguished speakers on the dice. Papers were presented on the theme by the faculty and research scholars arrived from different parts of India. Third session’s proceedings were coordinated by Dr Amardeep Kaur, MCM DAV College, Chandigarh.


The above Seminar will hold discussions on various themes relating to Guru Nanak’s teachings and philosophy from 11-13 October, 2019 at Golden Jubilee Hall and ICSSR Hall of Panjab University, Chandigarh.

Watch This Video Till End….

Seminar on Academic writings concluded at PU

मतदान के लिए 21 अक्तूबर को रहेगा वैतनिक अवकाशः उपायुक्त

पंचकूला:

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि विधानसभा आम चुनाव-2019 के लिए 21 अक्तूबर को मतदान के दिन वैतनिक अवकाश रहेगा। 

उपायुक्त ने बताया कि जनप्रतिनिधि अधिनियम की धारा 135 बी के तहत 21 अक्तूबर को वेतन सहित अवकाश घोषित किया गया है ताकि सभी मतदाताओं को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने का अवसर मिल सके। उन्होंने बताया कि मतदान के दिन सभी दुकानें, वाणिज्य संस्थान, भवन निर्माण इकाइयां और औद्योगिक संस्थान पूर्णतया बंद रहेंगे तथा कर्मचारियों को इस दिन का पूरा वेतन दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि आपातकालीन सेवाओं में कार्यरत कर्मचारियों को भी अपने मत प्रयोग करने का पूरा अवसर दिया जाएगा।  

Watch This Video Till End….

Seminar on Academic writings concluded at PU

उपायुक्त के मतदान के संदेश से सरोबार लघु सचिवालय

पंचकूला, 11 अक्तूबर- विधानसभा आम चुनाव-2019 रूपी लोकतंत्र के सबसे बड़े महोत्सव के चलते जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा के मतदान करने के संदेश से लघु सचिवालय परिसर की छटा अलग से देखते ही बनती है। जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा किए गए निवेदन से सभी लोगों का ध्यान मतदान की अपील वाले होर्डिंगों की ओर आकर्षित हो रहा है। उपायुक्त की अपील से लघु सचिवालय परिसर सजा-सजा सा नजर आ रहा है। यह निवेदन निश्चित तौर पर लोगों को मतदान करने के लिए प्रेरित कर रहा है। 

उल्लेखनीय है कि विधानसभा आम चुनाव-2019 के लिए 21 अक्टूबर को मतदान होना है। प्रशासन का हर संभव प्रयास है कि चुनाव में जिला पंचूकला का मतदान प्रतिशत अधिक से अधिक हो। इसके लिए जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा स्वीप टीम का भी गठन किया गया है और अतिरिक्त उपायुक्त मनीता मलिक को नोडल ऑफिसर बनाया गया है। स्वीप टीम द्वारा शिक्षण संस्थाओं, धार्मिक आयोजन, खेल प्रतियोगिताओं व गावंों में जाकर बच्चों और लोगों को मतदान के लिए जागरूक किया जा रहा है। इसके साथ-साथ स्वयं जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा होर्डिंग पर अपने संदेश के माध्यम से लोगों से अपने मत का प्रयोग करने की अपील की गई है। बाक्स-दो मिनट वोट के लिए- अंगुली पर निशान जरूरी है मतदान के प्रेरित करने को लेकर लघु सचिवालय परिसर में लगे होर्डिंग पर जिला निर्वाचन अधिकारी के अलग-अलग संदेश हैं। उपायुक्त का संदेश है कि 21 अक्टूबर दो मिनट का समय वोट के प्रयोग के लिए जरूर निकालें। उपायुक्त का संदेश है कि 21 अक्टूबर को मतदान से चूकना नहीं है। अंगुली पर निशान जरूरी है। यह केवल स्याही का निशान नहीं ही नहीं बल्कि हमारे स्वाभिमान का प्रतीक है। 21 अक्टूबर को भूलना नहीं है और इसे याद रखना है। सारे काम छोड़कर सबसे पहले वोट डालना है। 


बाक्स-प्रवेश द्वार पर मतदान को लेकर बनी रंगोली और हस्ताक्षर अभियान का बोर्ड कर रहे हैं सबको आकर्षित 

बाॅक्स-डीसी की अपील से पंचकूला जिले में बना उत्साहपूर्ण मतदान करने का माहौल शहर के सभी द्वारों पर होर्डिंगों के माध्यम से यूअर वोट मैटर्स के संदेश से सभी नागरिकों का स्वागत किया जा रहा है।

इसके साथ ही साईकल स्टैंडों पर मेरा वोट मेरा अधिकार का संदेश देकर मतदाताओं को अपने मत के अधिकार का प्रयोग अवश्य करने के प्रति प्रेरित किया गया है। इसके अलावा हरियाणा राज्य परिवहन की बसों पर भी-हरियाणा की होगी स्थिति न्यारी जब वोट करेंगे हर नर-नारी का संदेश देकर मतदान करने को लेकर जागरूक किया जा रहा है। लघु सचिवालय के अंदर प्रवेश करने से पहले द्वार पर यूअर वोट मैटर्स के फलैक्स युवाओं और अन्य नागरिकों को उनकी जिम्मेदारी का अनुभव करवाते हैं। इसी प्रकार प्रवेश द्वार से पहले बच्चों ने मतदान करने को लेकर सुंदर रंगोली बनाई हुई है। मतदान करने को लेकर हस्ताक्षर अभियान भी चलाया हुआ है, जिस पर युवा मतदाता बड़े उत्साह से अपने हस्ताक्षर कर यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि वे मतदान आवश्य करेंगे। उपायुक्त द्वारा लोगों से अपने संबंधित पोलिंग बूथ पर जाकर मतदान की अपील की गई है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने नागरिकों से अपील की है कि 21 अक्टूबर को जाति, धर्म, भाषा, क्षेत्र, रंग और लिंग इत्यादि के भेदभाव से ऊपर उठकर अपने विवेक से अपने मत का प्रयोग पूर्ण निर्भिकता, गोपनीयता और स्वतंत्रता के साथ करें। हम सबने मतदान कर लोकतंत्र का महा पर्व बनाना है। नागरिकों की सुविधा के लिए जिला टोल फ्री नंबर दर्शाए गए हैं ताकि नागरिक चुनाव से संबंधित अपनी शिकायत के बारे में उनके संपक कर अपनी शंका दूर कर सकें। बाॅक्स-टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में दी गई है जानकारी

होर्डिंग के माध्यम से जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा वोट का प्रयोग करने के साथ-साथ मतदान से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी लेने के लिए टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में जागरूक किया गया है। इसके साथ-साथ आदर्श चुनाव आचार संहिता के उलंघ्घन की शिकायत बारे सीविजल एप के बारे में जागरूक किया गया है। 

बॉक्स

इस बारे में जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने कहा कि चुनाव लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व है। इसे अपने मत का प्रयोग करके ही एक उत्सव का रूप दिया जा सकता है। जिला के सभी मतदाता 21 अक्टूबर को सभी जरूरी काम छोड़ कर व अपने संबंधित पोलिंग बूथ पर जाकर अपने मत का प्रयोग करें। लोगों को मतदान के प्रति जागरूकता के लिए लघु सचिवालय परिसर व अन्य जगहों पर होर्डिंग लगाए हैं।

Watch This Video Till End….