आश्विन नवरात्र में उत्तरी भारत के ऐतिहासिक श्री माता मनसा देवी मंदिर में माता मनसा देवी के दर्शन

Panchkula:

News 7 World Live:

श्री माता मनसा देवी के दर्शन
मुख्य द्वार

आश्विन नवरात्र में उत्तरी भारत के ऐतिहासिक श्री माता मनसा देवी मंदिर में माता मनसा देवी के दर्शन

श्रद्धालुओं ने माता के दर्शन किए 

माता के दर्शन से सभी की मनोकामना पूरी होती है।

ऐसी मानयता है कि श्री माता मनसा देवी सभी की झोली खुशियो से भरती हैं।

जय माता दी।

Watch This Video Till End….

PU lost one of its iconic scientists

Chandigarh October 6, 2019

 Panjab University is sad with the demise of one of its iconic and world renowned scientist Prof.Dharam Vir Singh Jain in the early hours of Sunday, 6th October 2019 in PGI.
       

Prof. Jain was born in Hansi, in erstwhile Punjab on 16th June 1933. He obtained B.Sc. (Hons.), M.Sc. in Chemistry from University of Delhi, M.S. and Ph.D. in Mathematics (1954-58) from University of Southern California, USA. Prof. D V S Jain and Prof. S. V. Kessar were Ph.D. scholars at University of Southern California at the same time. He returned to India in 1958 and joined as Lecturer, University of Delhi, moved to PU as Reader (1963), subsequently became Professor in Department of Chemistry, Panjab University, Chandigarh. He served as Director, Regional sophisticated Instrumentation Centre (1985-87 & 1992-95) and INSA senior scientist (1996-2001). He was serving as Professor Emeritus and INSA Honorary Scientist at Chemistry Department, Panjab University.


        Prof.D.V.S. Jain worked in several areas of physical and theoretical chemistry. His major scientific contributions included understanding the thermodynamic and transport properties of binary mixtures of short chain n-alkanes. He published over 150 research papers in international journals, written 7 books and edited 2 books. He was member of Editorial boards of number of journals and publication committee of the IUPAC. He supervised 24 Ph.D. scholars and over 50 M.Sc./M.Phil.


        Prof. Jain was recipient of S.R.Patil Award, J.C.Ghosh Award, K.S.G. Doss Award, R. P.Mitra Award, Silver medal of CRSI, Platinum Jubilee Lecture of ISCA and Jawaharlal Nehru Birth Centenary lecture of INSA. He was Fellow of all the three
national  Science Academies of India.  As Fellow of Indian National Science Academy , he served as its Editor of Publications (1987-90), and its Secretary-1994-96.


        Prof. Jain donated a sum of Rs. 50 lakhs to set up Smt. PremLata Jain and Prof. D.V.S. Jain Research Foundation at Department of Chemistry, Panjab University. This foundation has been created for the promotion of scientific research in Panjab University. Prof. Jain was an able administrator and served as a nominated member of the  Panjab University Senate  from 2012-2019. He also co-authored (with Dr V K Anand) the biography of the Panjab University titled ‘The Flight of Phoenix’ in the commemorative 125th Birth year of the University.
       

With the passing away of Prof. D V S Jain, the nation has lost an eminent scientist. 

Watch This Video Till End….

MCC organises Kirtan Samagam at Khudda Ali Sher

Chandigarh, October 6:- The Municipal Corporation Chandigarh has organised 1st Kirtan Samagam to commemorate 550th Birth Anniversary of Sri Guru Nanak Dev ji at stadium, Khudda Ali Sher last evening.

The Kirtan was started at 7pm and concluded at 11 pm with Guru Ka Langar. Sh. Hardeep Singh, Senior Deputy Mayor and Chairman of the implementation committee welcomed the prominent Kirtan Jathas including Bhai Kamaljit Singh ji and Bhai Gurjinder Singh ji from Sri Darbar Sahib, Golden Temple, Amritsar and Bhai Darshan Singh ji from village Khudda Ali Sher who graced the occasion as special kirtniye.

After Kirtan Samagam the MCC distributed cloth bags to the devotees requesting them to avoid plastic bags and single use plastic items. In addition to that saplings of medicinal and fruit bearing trees were also distributed among devotees. The MCC has decided to distribute 550 saplings to commemorate the 550th Birth Anniversary of Sri Guru Nanak Dev ji during the Kirtan Darbars being organised throughout city.

Watch This Video Till End….

आश्विन नवरात्र के अवसर पर श्री मात मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड द्वारा सास्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया।

पंचकूला, 6 अक्टूबर- आश्विन नवरात्र के अवसर पर श्री मात मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड द्वारा सास्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। इस अवसर पर चण्डीगढ़ की चीफ पोस्ट मासटर जनरल श्रीमती रंजु प्रसाद ने अपने भजनों के माध्यम से श्रद्धालुओं को भक्ति रस में सरोबार कर दिया।

उन्हांेंने -बड़ी देर भई नंदलाना तेरी राह तके बृजबाला और एक राधा एक मीरा दोनो ने श्याम को चाहा गाकर माहौल को कृष्णमय कर दिया। उन्होंने- आए नवरात्रे, मईया की आरती उतारूं रे भेंट गाकर माता मनसा देवी के चरणों में अपनी हाजरी लगाई। श्रद्धालुओं ने मुक्त कंठ से उनके भजनों की प्रशंसा की। कार्यक्रम में उन्होंने लोगों से 21 अक्टूबर को मतदान करने की भी अपील की। इस अवसर पर धर्मवीर सेवानिवृत आईएएस, श्री माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी  एम.एस. यादव, सदस्य संदीप गुप्ता, सत्यनारायण वर्मा तथा पवन गुप्ता भी उपस्थित रहे। 


Watch This Video Till End….

विधानसभा चुनावों पर नजर रखने के लिए सामान्य पर्यवेक्षक एस.एस गिल ने ने कार्यभार संभाला

पंचकूला, 6 अक्टूबर- विधानसभा चुनाव 21 अक्तूबर को सम्पन्न करवाए जाएंगे। इन चुनावों को निष्पक्ष, स्वतंत्र और निर्बाद्ध गति से सम्पन्न करवाने के लिए भारत निर्वाचन आयोग की ओर से 01-कालका व 02-पंचकूला विधानसभा क्षेत्र के लिए सामान्य पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया हैं। उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी एस.एस गिल को सामान्य पर्यवेक्षक लगाया गया है और उन्होंने अपनी ड्यूटी ज्वाईन कर ली है। 

श्री गिल पीडब्ल्यूडी के रेस्ट हाउस में ठहरे हैं, जहां पर प्रातः 11 से दोपहर 12 बजे तक उनसे मुलाकात की जा सकती है। उनसे मोबाईल नंबर 7717337796 के अलावा लैंडलाईन नंबर 0172-2568313 पर भी संपर्क किया जा सकता है। इसके अलावा उनके ई-मेल एडरेस ेेहपससवइेमतअमत/हउंपसण्बवउ पर भी ई-मेल की जा सकती है। उनके साथ योजना अधिकारी राजेन्द्र कुमार को संपर्क अधिकारी के तौर पर लगाया गया है। 

उन्होंने कहा कि कोई भी मतदाता या राजनैतिक दल आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन व निर्वाचन से सम्बंधित किसी भी तरह की शिकायत के लिए सीधे तौर पर कर पर्यवेक्षक से सम्पर्क कर सकता है और अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है।

Watch This Video Till End….

हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्या ने आश्विन नवरात्र के आठवें दिन उत्तरी भारत के ऐतिहासिक श्री माता मनसा देवी मंदिर में माता मनसा देवी के दर्शन किए।

पंचकूला, 6 अक्टूबर- हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्या ने आश्विन नवरात्र के आठवें दिन उत्तरी भारत के ऐतिहासिक श्री माता मनसा देवी मंदिर में माता मनसा देवी के  दर्शन किए। उन्होंने मंदिर परिसर में आयोजित पूजन एवं यज्ञ में भाग लिया तथा दुर्गा अष्टमी के अवसर पर कन्याओं का पूजन भी किया। इस अवसर पर प्रदेशवासियों को महाअष्टमी की शुभकामनाएं दी और सभी प्रदेश वासियों के सुख-स्मृद्धि और यश की कामना की। 

कार्यक्रम में श्री एम.एस यादव तथा अन्य संबंधित अधिकारी भी उपस्थित थे। 

Watch This Video Till End….

विधानसभा आम चुनाव-2019 की मतदान प्रक्रिया के लिए नियुक्त किए गए प्रीजाइडिंग ऑफिसर्स (पीओ) तथा अल्टरनेट प्रीजाइडिंग ऑफिसर्स (एपीओ) को आज चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के मल्टीपर्पज हॉल में दो चरणों में आयोजित मेगा रिहर्सल

सिरसा, 6 अक्तूबर।


विधानसभा आम चुनाव-2019 की मतदान प्रक्रिया के लिए नियुक्त किए गए प्रीजाइडिंग ऑफिसर्स (पीओ) तथा अल्टरनेट प्रीजाइडिंग ऑफिसर्स (एपीओ) को आज चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के मल्टीपर्पज हॉल में दो चरणों में आयोजित मेगा रिहर्सल में चुनाव प्रक्रिया की बारीकियां समझाई गईं। इस दौरान तहसीलदार चुनाव राम निवास ने पीओ-एपीओ को वीडियो के माध्यम से ईवीएम व वीवीपैट मशीनों के संचालन के बारे में भी समझाया गया व उन्हें मौके पर ही हैंड्स-ऑन ट्रेनिंग भी दी गईं।


जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार गर्ग ने कहा कि पीओ व एपीओ की जरा सी चूक गंभीर रूप ले सकती है। इसलिए अपनी ड्यूटी के दौरान अपनी जिम्मेदारी की गंभीरता को समझते हुए सजग रहें और किसी प्रकार की लापरवाही न बरतें। उन्होंने कहा कि पीओ हैंडबुक में लिखी हिदायतों व नियमों की जानकारी चुनाव करवाने वाले अधिकारी को होनी जरूरी है। उन्होंने कहा कि मतदान के लिए बूथों पर महिलाओं व पुरुषों की अलग-अलग लाइनें लगवाई जाएं और एक पुरुष के बाद दो महिलाओं को वोट डालने के लिए भीतर भेजा जाए। वरिष्ठï नागरिकों व दिव्यांगजनों को बिना लाइन में लगे सीधे अंदर जाकर मतदान करने की सुविधा दी जाए।
उन्होंने कहा कि निष्पक्ष व पारदर्शी चुनाव करवाने में उनकी भूमिका सर्वाधिक महत्वपूर्ण होगी। इसलिए वे मतदान से जुड़ी पूरी प्रक्रिया को अच्छी प्रकार से समझें और सभी नियमों व कानूनों की पूरी जानकारी प्राप्त कर लें। उन्होंने बताया कि 21 अक्तूबर को विधानसभा चुनाव के लिए सुबह 7 से सायं 6 बजे तक मतदान होगा। इससे एक घंटा पूर्व प्रात: 6 बजे पोलिंग एजेंट्स की मौजूदगी में मोक पोल करवाया जाए। मोक पोल में सभी प्रत्याशियों को 2-2 वोट डलवाए जाएं और पोलिंग एजेंट्स को इसका परिणाम दिखाकर मोक पोल की सभी पर्चियों को काले लिफाफे में सीलबंद करके रख लें। उन्होंने हिदायत दी कि मोक पोल की प्रक्रिया संपन्न होने के बाद ईवीएम मशीन को क्लीयर करना न भूलें। इसी प्रकार मतदान संपन्न होने के बाद मशीन को क्लोज करना भी बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि यदि कोई समस्या आती है तो उसे अपने स्तर पर हल करें, यदि समाधान नहीं होता तो उच्च अधिकारियों को सम्पर्क करें।


जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि सभी पीओ हर दो घंटे के अंतराल पर मतदान प्रतिशत और वोट संख्या की जानकारी पीओ डायरी में नोट करेंगे तथा इसकी सूचना नियंत्रण कक्ष में भी भिजवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने फार्म 17ए, 17सी, डिक्लेरेशन फार्म, पीओ डायरी तथा अन्य सभी प्रकार के दस्तावेज व फार्म भरने के संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए उन्हें मतदान प्रक्रिया की बारीकियों के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि हमारे लिए सभी प्रत्याशी समान हैं। इसलिए अधिकारी व कर्मचारी निष्पक्ष भाव से अपना दायित्व निभाए। उन्होंने कहा कि चुनाव में लगे सभी कर्मचारियों को ईडीसी (इलेक्शन ड्यूटी सर्टिफिकेट) अथवा पोस्टल बैलेट के माध्यम से मताधिकार का अवसर मिलेगा। उन्होंने बताया कि पीओ-एपीओ की मदद के लिए सेक्टर ऑफिसर्स, माइक्रो ऑब्जर्वर, जोनल मजिस्ट्रेट तथा बीएलओ भी लगाए गए हैं ताकि मतदान प्रक्रिया सुचारू तरीके से संपन्न हो।


उन्होंने हिदायत दी कि कोई भी कर्मी ईवीएम मशीन को लेकर बूथों के अलावा कहीं और न जाए। ऐसा करना दंडनीय अपराध है। बूथ पर जाकर पोलिंग पार्टी वहां की व्यवस्था देखे और सुनिश्चित करे कि मतदान केंद्र पर किसी प्रत्याशी आदि की प्रचार सामग्री न लगी हो। उन्होंने मोक पोल करवाने, उसके पश्चात ईवीएम मशीन आदि को दोबारा मतदान के लिए तैयार करने, पीओ डायरी व अन्य जरूरी फार्म भरने तथा मतदान करवाने के संबंध में जानकारी दी।


इस मौके पर रिटर्निंग अधिकारी सिरसा जयवीर यादव, कालांवाली निर्मल नागर, डबवाली विनेश कुमार, रानियां राजेंद्र कुमार, ऐलनाबाद संयम गर्ग सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

Watch This Video Till End….