PU Professor to Chair a Session in Asian Innovation Forum

Chandigarh September 30, 2019

Professor Rupinder Tewari, Coordinator, DST-Centre for Policy Research, Panjab University, Chandigarh has been invited to chair a session, ‘Future of SMEs and Startup Ecosystem’ during 5th Asian Innovation Forum to be held in Manila, Phillipines during October 3-5, 2019. Professor Tewari will also be delivering a scientific lecture on , ‘BIRAC-a Successful PPP Model for Stimulating Innovations (SMEs)’. In addition, he”ll dwell upon a study conducted by him and the scientific team of DST-CPR on recent inititaives of Government of India to stimulate Industry-Academia intercations in
Higher Education Institutes, National Research Laboratories and Industries.


        This forum has been created to make ‘Better Asia for Tomorrow’ through innovation as the expectations from the society has risen with increasing role of technology in our lives. Every year, the annual meeting of Asian Innovation Forum
attracts scientists, educationists and policy makers of Asian countries including Japan, South Korea, China, Taiwan, Malaysia, Phillipines, Sri Lanka, Thailand etc. to share best practices for strenthening innovation ecosystem.

Watch This Video Till End….

MCC Replanted Pilkhan Tree

Chandigarh, September 30:- The Municipal Corporation Chandigarh today, replanted fallen pilkhan tree after necessary pruning along with due treatment near V3 road, 23/24 side, Sector 23, Chandigarh.The tree was replanted  with the direction of Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, Municipal Corporation Chandigarh by the Horticulture Department.

Watch This Video Till End….

Mayor flags off door to door segregation of garbage from Dhanas village

Chandigarh, September 30:- Sh. Rajesh Kumar, Mayor and Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, Municipal Corporation Chandigarh today flagged off 12 vehicles to carry out the door to door collection of waste in segregated manner at village Dhanas, Khudda Ali Sher and village Kaimbwala. Prominent persons of the area were also present during the launch.

The Mayor informed that the 12 vehicles will collect door to door waste in segregated manner i.e. wet and dry separately in different cabins from village Dhanas, Khudda Ali Sher and Kaimbwala from near about 1900, 2300 and 2500 households respectively.

He said that the Municipal Corporation has purchased 99 vehicles of 3.2 cubic meter capacity to carry out the door to door collection of domestic waste in segregated manner. The dry and wet waste will be given by residents separately and will be collected in different compartments of the vehicles.

The Mayor said that 55 vehicles have been deployed to use for the 13 villages recently transferred to the Municipal Corporation and the remaining 44 vehicles will be used for the unattended areas of the city which are not being catered by private waste collectors.

He said that the pilot project to start segregation in all the recently transferred villages has been completed and now the MCC will start door to door segregation in market areas of sectors from 9, 10, 11, 23 & 24 in the first phase within one week.

Watch This Video Till End….

राजकीय स्नात्कोतर महाविद्यालय में आयोजित जागरूकता अभियान की अध्यक्षता करते कॉलेज की प्राचार्या डॉ. अर्चना मिश्रा।

पंचकुला, 30 सितंबर-

पंचकूला सेक्टर एक स्थित राजकीय स्नातकोतर महाविद्यालय के सेमिनार हॉल में महात्मा गांधी की 150वीं  जयंती वर्ष के अवसर पर सिस्टमैटिक वोटर्स एजुकेशन एंड इलेक्टोरल पार्टिसिपेशन प्रोग्राम तथा रोड सेफ्टी और प्लास्टिक फ्री मूव पर एक जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया। 

कॉलेज की प्राचार्या डॉ. अर्चना मिश्रा ने इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया। पर्यावरणीय चिंताओं के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि हमें प्लास्टिक के उपयोग से बचना चाहिए क्योंकि यह गैर-अपघटनीय है और  जब इसका अपघटन होता है तो माइक्रोप्लास्टिक बनता है जो कि कैंसर का प्रमुख कारण है। उन्होंने यह भी कहा कि ट्रैफिक नियमों का पालन करना भारत के प्रत्येक नागरिक की जिम्मेदारी है और नए मोटर वाहन अधिनियम के पालन से  ही देश में सड़क दुर्घटना में कमी आएगी।

जिला योजना अधिकारी सुनील जाखड़ ने पर्यावरण को संरक्षित करने और शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए डूज और डॉन्ट्स से छात्रों को परिचित कराया। कार्यक्रम में ईवीएम एक्सपर्ट अनिल कुमार ने छात्रों को ईवीएम के माध्यम से मतदान का प्रशिक्षण प्रदान किया। इसके अतिरिक्त रेडक्रॉस सोसायटी, पंचकुला के रमेश चैधरी ने छात्रों को नए मोटर वाहन अधिनियम के नियमों और विनियमों के बारे में प्रशिक्षित किया। कार्यक्रम के अंत में प्लास्टिक बैग से बचने के लिए छात्रों को इको फ्रेंडली बैग वितरित किए गए। इस अवसर पर एनएसएस स्वयंसेवकों सहित पत्रिकारिता विभाग के विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। 

Watch This Video Till End….

अश्विन नवरात्र मेला के दूसरे दिन तक श्री माता मनसा देवी तथा काली माता मंदिर में श्रद्धालुओं द्वारा कुल 25 लाख 31 हजार 704 रुपए की राशि दान स्वरूप अर्पित की गई तथा एक लाख तीन हजार 600 श्रद्धालुओं ने माता के दर्शन किये।

पंचकूला, 30 सितंबर-

अश्विन नवरात्र मेला के दूसरे दिन तक श्री माता मनसा देवी तथा काली माता मंदिर में श्रद्धालुओं द्वारा कुल 25 लाख 31 हजार 704 रुपए की राशि दान स्वरूप अर्पित की गई तथा एक लाख तीन हजार 600 श्रद्धालुओं ने माता के दर्शन किये।  

इस संबंध में जानकारी देते हुए उपयुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि दूसरे नवरात्र तक श्रद्धालुओं द्वारा सोने के 15 तथा चांदी के 115 नग दान स्वरूप श्री माता मनसा देवी तथा काली माता के चरणों मे अर्पित किए गए। इसके अलावा यूएस के 41, कैनेडा के 65 डॉलर तथा 15 पोंड भी दान में चढ़ाये गए। 

उन्होंने बताया कि नवरात्र मेला के दूसरे दिन श्री माता मनसा देवी व श्री काली माता मंदिर कालका में 23 हजार 600 श्रद्धालुओं ने माता के दर्शन किए तथा कुल 12 लाख 76 हजार 953 रूपए की राशि दान स्वरूप अर्पित की। उन्होंने बताया कि आज दूसरे नवरात्र के अवसर पर श्री माता मनसा देवी व श्री काली माता मंदिर कालका में सोने के 7 व चांदी के 33 नग भी दान स्वरूप अर्पित किए गए। इसके साथ ही कैनेडा के 5 डाॅलर भी दान स्वरूप अर्पित किए गए। 

Watch This Video Till End….

उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मुकेश कुमार आहूजा ने 21 अक्तूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत मतदाता जागरूकता अभियान में मीडिया के महत्व पर बल देते हुए कहा कि आज के दौर में प्रिंट, इलेक्ट्रानिक व सोशल मीडिया का आम जन जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है।

पंचकूला, 30 सितंबर-

उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मुकेश कुमार आहूजा ने 21 अक्तूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत मतदाता जागरूकता अभियान में मीडिया के महत्व पर बल देते हुए कहा कि आज के दौर में प्रिंट, इलेक्ट्रानिक व सोशल मीडिया का आम जन जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है। समाज में किसी भी अभियान की सफलता व असफलता मीडिया पर निर्भर करती है। मीडिया के माध्यम से हम अधिक से अधिक लोगों विशेषकर युवाओं को मतदान के प्रति प्रेरित कर सकते हैं। 

श्री आहूजा आज पंचकूला में मीडिया से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान के लिए कृत संकल्प है। जिला में चुनावी प्रक्रिया संबंधी गतिविधियां दुरूस्त तरीके से चल रही हैं। सभी एसएसटी टीमें, फलाईंग स्कवेड, वीडियो विंग टीमें तथा अन्य टीमें अपने कार्य मुस्तैदी से कर रही हैं। जिला में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने कहा कि वैसे तो जिला में कानून एवं सुरक्षा पुख्ता है परंतु ऐहतिआत के तौर पर संवेदनशील तथा अति संवेदनशील बूथों की पहचान की जा रही है। इसके साथ-साथ ही चुनाव प्रक्रिया को सुगम बनाने के लिए पोलिंग टीमों को प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। इस अवसर पर नगराधीश नवीन आहूजा भी उपस्थित थे। फोटो कैप्शन-उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा पंचकूला में मीडिया कर्मियों से बात-चीत करते हुए। 

Watch This Video Till End….

इस बार विधानसभा चुनावों में पहली बार सर्विस वोटर के लिए सी डैक के सहयोग से विकसित इलेक्ट्रोनिकली ट्रांसमिटेड पोस्टर बैलेट (ईटीपीबी) जारी किया जाएगा।

पंचकूला, 30 सितंबर-

इस बार विधानसभा चुनावों में पहली बार सर्विस वोटर के लिए सी डैक के सहयोग से विकसित इलेक्ट्रोनिकली ट्रांसमिटेड पोस्टर बैलेट (ईटीपीबी) जारी किया जाएगा। इसी संबंध में आज भारत निर्वाचन आयोग की ओर से प्रोग्रामर ने राज्य के सभी आर.आ.ज़ की मौजूदगी में संबंधित आॅपरेटरों को वीडियो कांफं्रेसिंग के माध्यम से प्रशिक्षण दिया गया है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि इटीपीबी के तहत सर्विस वोटरों को उनके मेल आइडी पर पोस्टल बैलेट भेजे जाएंगे।

यानी जहां पर सैनिक तैनात है वहां के अफसरों की ये जिम्मेदारी रहेगी कि वे उन्हें ये बेलेट डाउनलोड करके दें। मतदाता अपने पसंदीदा उम्मीदवार के नाम और चुनाव चिह्न के कॉलम में मताधिकार का प्रयोग कर मतपत्र लिफाफे में सील कर संबंधित विधानसभा क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारी को डाक के माध्यम से प्रेषित करेंगे। ये पोस्टल बेलेट 8 से 21 अक्टूबर तक डाउनलोड किए जाएंगे। इसके बाद उन्हें डाक द्वारा 24 अक्टूबर को प्रातः 5 बजे तक चुनाव कार्यालय में पहुंचाना होगा। इसके बाद किसी भी डाक को स्वीकार नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पहले चुनाव कार्यालयों से डाक द्वारा पोस्टल बेलेट भेजे जाते थे। इस प्रक्रिया में कई दिन लगते थे। अब सैनिकों की सुविधा व पारदिर्शता के लिए यह व्यवस्था की गई है कि सभी को ईटीपीबी भेजा जाए।

बाक्स-कौन होते हैं सेवा मतदातासेवा मतदाता वो मतदाता हैं,

जो विभिन्न कारणों से अपने मतदान क्षेत्र के बाहर कार्यरत या पदस्थापित हैं। इसमें केंद्रीय सशस्त्र बल, राज्य पुलिस, केंद्र सरकार के कर्मचारी, विभिन्न देशों के भारतीय दूतावासों में राजदूत व अधिकारी-कर्मचारी व विदेशों में रह रहे भारतीय नागरिक शामिल हैं।

Watch This Video Till End….

अतिरिक्त उपायुक्त मनीता मलिक स्वीप कार्यक्रम के संबंध में संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश देते हुए।

पंचकूला, 30 सितंबर-

अतिरिक्त उपायुक्त एवं मतदाता जागरूकता अभियान स्वीप की नोडल अधिकारी मनीता मलिक ने लघु सचिवालय में जिला में स्वीप गतिविधियों को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी, जिला योजना अधिकारी, जिला आर्थिक एवं सांख्यिकीय विभाग, जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी, जिला प्रोग्राम अधिकारी, प्रोटोकाॅल अधिकारी, सेक्टर-1 राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्रिंसीपल, सेक्टर-14 राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के पिं्रसीपल व अन्य संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। 


अधिकारियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जिले के सभी विभाग मतदाता जागरूकता स्वीप के कार्यक्रमों को एक मुहिम के तौर पर चला रहे हैं। मतदाता जागरूकता अभियान की अलख घर-घर जगाई जा रही है। जिला शिक्षा अधिकारी के माध्मय से स्कूली बच्चों को जागरूक किया जा रहा है कि वे अपने अभिभावकों को मतदान के महत्व के बारे में बताएं। उन्होंने कहा कि अक्सर देखा गया है कि ग्रामीण एवं गरीब क्षेत्रों में मतदान अधिक होता है और शहरी क्षेत्र के लोग मतदान के प्रति उदासीन रहते हैं। सभी निजी और सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को अपने माता-पिता, आस-पड़ोस तथा अपने बड़े भाई-बहनों के साथ-साथ अन्य रिश्तेदारों को वोट डालने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि मतदाता जागरूकता अभियान केवल सरकारी और प्रशासनिक माध्यम से ही नहीं किया जा सकता, इसमें जनता की भागीदारी भी बहुत आवश्यक है। जिला प्रशासन जनता के सहयोग से मतदाता जागरूकता अभियान के लिए हर मंच को प्रयोग कर रहा है। नवरात्रों के दौरान माता मनसा देवी मंदिर में मतदाताओं को जागरूक करने के लिये स्टाल लगाया गया है, जिसके द्वारा मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को ज्यादा से ज्यादा मतदान के लिये प्रेरित किया जा सके। पंचकूला जिला में दो मतदाता जागरूकता वैनों के माध्यम से अधिक मतदान के फायदे के बारे में बताया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर बैनर्स/पोस्टर्स व फलैक्स के माध्यम से मतदान करने के संदेश दिये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कविता, भजनों व मैराथन के माध्यम से भी लोगों को वोट डालने के प्रति प्रेरित किया जा रहा है। इसके साथ-साथ जिला योजना अधिकारी के माध्यम से कालेजों में विद्यार्थियों को ईवीएम मशीनों पर वोट डालने और वीवीपैट का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

   Watch This Video Till End….

जिला में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा एक सिंतबर से 30 सिंतबर तक पोषण माह मनाया गया जिसके तहत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर महिलाओं व किशोरियों को स्वास्थ्य व पौषाहार के बारे में जागरुक किया गया।

सिरसा, 30 सितम्बर।


             जिला में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा एक सिंतबर से 30 सिंतबर तक पोषण माह मनाया गया जिसके तहत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर महिलाओं व किशोरियों को स्वास्थ्य व पौषाहार के बारे में जागरुक किया गया। सोमवार को स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में पोषण माह के समापन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला कार्यक्रम अधिकारी डा. दर्शना सिंह ने की।


                 कार्यक्रम में डा. दर्शना सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि पोषण माह को एक जन आंदोलन बनाने के लिए भरसक प्रयास किए गया है। आंगनवाड़ी स्तर से लेकर हर एक स्थर पर जन -जागृति लाने के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियां आयोजित की गई है। उन्होंने बताया कि गोद-भराई, सुपोषण दिवस, पोषण रैली, प्रभात फेरी, सभी स्कूलों मे ड्राईंग प्रतियोगिता, पोषण से संबंधित जागरुकता स्पीच इत्यादि सभी गतिविधयों के माधयम से लगभग 8 लाख से भी अधिक लोगों तक यह पोषण का संदेश पंहुचाया जा चुका है।


                 उन्होंने कहा कि बच्चे के हजार दिन, गर्भावस्था के 9 माह तथा स्तनपान के 6 माह को फोकस करना तथा अल्प पोषण को मिटाने के लिए उपायों को बढाना, अनिमिया मुक्त भारत, डायरिया से बचाव, स्वच्छता तथा पौष्टिक आहार पोषण माह का मुख्य उद्ïदेश्य है। उन्होंने कहा कि गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक आहार लेना चाहिए, टीकाकरण पूरा करवाना मां व बच्चे के अच्छे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरुरी है। उन्होंने कहा कि मां को बच्चे के जन्म के तुंरत बाद ही स्तनपान करवाना शुरू करना चाहिए। बच्चे के छह माह के बाद पूरक आहार देना अवश्य आंरभ करें। उन्होंने सभी से आह्वïान किया कि यह पोषण अभियान का समापन नहीं बल्कि शुभांरभ है।


                 इस अवसर पर पोषण से संबधित बोलियों पर ब्लॉक औढां व ऐलनाबाद द्वारा जागो व गिद्धा, हरियाणवी डांस, सिरसा शहरी द्वारा स्वागत गीत, सुपरवाईजर द्वारा कविताएं, ऐलनाबाद द्वारा राजस्थानी सोलों डंास व पोषण सुदंरी का आयोजन हुआ। पोषण सुंदरी कार्यक्रम के माध्यम से संतुलित आहार जिसमें सभी प्रकार की सब्जियां, फल इत्यादि का महत्व बताया गया। साथ ही बच्चों के लिए झूलें, स्टॉल जिसके माध्यम से हैंडवाश व गत्तों से बने डस्टबिन को यूज करने व प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने का संदेश दिया गया। इस प्रकार लगभग एक हजार से करीब जन साधारण को पोषण रैली व पोषण शपथ दिलाकर अभियान को सफल बनाने का संदेश दिया। प्रो.ï रजनी बाला ने सभी से पोषण अभियान को सफल बनाने का आग्रह किया। इस अवसर पर विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएं आयोजित की गई जिसमें मेंहदी प्रतियोगिता, रंगोली प्रतियोगिता, सेल्ट प्रतियोगिता, लॉ कॉसट रेसिपी प्रतियोगिता, रंगोली कंपीटीशन का अयोजन किया गया। इस मौंके पर निर्णायक मंडल की भूमिका डा0 पूनम मोंगा, एपीसीओ शशि सचदेवा, प्रिंसीपल शांति देवी आगंनवाडी टे्रनिंग सैंटर ने निभाई।


इस अवसर पर जिले की सभी आंगनवाड़ी वर्कर, हैल्पर, सर्कल सुपरवाईजर्स व सभी महिला एंव बाल विकास परियोजना अधिकारी के अतिरिक्त जिले के भिन्न-भिन्न गांवो से ग्रामीण, महिलाएं व बच्चे उपस्थित थे।

Watch This Video Till End….

रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम निर्मल नागर ने कहा कि वल्नरेबल बूथों तथा खर्च संवेदनशील बूथों पर कड़ी निगरानी रखी जाए।

कालांवाली, 30 सितम्बर।


            रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम निर्मल नागर ने कहा कि वल्नरेबल बूथों तथा खर्च संवेदनशील बूथों पर कड़ी निगरानी रखी जाए। यदि अतिरिक्त इंतजामों की आवश्यकता है तो समय रहते अपनी तैयारियां करें ताकि मौके पर किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।


                वे आज अपने कार्यालय कक्ष में विधानसभा कालांवाली के सेक्टर ऑफिसर व पुलिस अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में सैक्टर ऑफिसरों द्वारा प्रस्तुत की गई वल्नरेबल बूथों तथा खर्च संवेदनशील बूथों की रिपोर्ट पर विस्तारपूर्वक चर्चा की गई। रिटर्निंग अधिकारी ने बताया कि इन जगहों पर चुनाव के दौरान विशेष सावधानी बरती जाएगी, अतिरिक्त फोर्स की तैनाती के साथ-साथ चुनाव प्रक्रिया सीसी कैमरे की निगरानी में कराया जाएगा ताकि बूथ पर होने वाले हर एक गतिविधि पर नजर रखी जा सके। उल्लेखनीय है कि कालांवाली विधानसभा क्षेत्र को दो जोन में बांटा गया है तथा इनमें मतदान प्रक्रिया को शांतिपूर्ण व निष्पक्ष ढंग से सम्पन्न करवाने के लिए 2 जोनल मजिस्ट्रेट, 6 ड्यूटी मजिस्ट्रेट व 13 सैक्टर ऑफिसर नियुक्त किए गए हैं। इसके साथ-साथ स्टेटिकल सर्विलांस टीम, फ्लाईंग स्क्वायड टीम, वीडियो सर्विलांस टीम, वीडियो व्युयिंग टीम, सहायक खर्च ऑब्जर्वर द्वारा प्रत्याशियों द्वारा किए जाने वाले खर्च पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी।


                इस बैठक में तहसीलदार भूवनेश कुमार, नायब तहसीलदार रण सिंह, सैक्टर ऑफिसर हरदीप कुमार, कृष्ण कुमार, सुभाष चंद्र, प्रदीप बिश्रोई, राजेंद्र, हरविंद्र सिंह, चुनाव कानूनगो अविनाश सिंगला सहित सैक्टर ऑफिसर, पुलिस अधिकारी तथा चुनाव प्रक्रिया से जुड़े अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Watch This Video Till End….