जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा-2021 आगामी 11 अगस्त, 2021 को प्रातः 11.30 से दोपहर 01.30 बजे तक की जाएगी आयोजित

पंचकूला, 24 जुलाई- जवाहर नवोदय विद्यालय मौली, जिला पंचकूला की प्रधानाचार्या श्रीमती अर्चना ने बताया कि जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा-2021 आगामी 11अगस्त, 2021 को प्रातः 11.30 से दोपहर 01.30 बजे तक जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी। इसके लिए प्रवेश पत्र संबंधित आवेदक नवोदय विद्यालय समिति के पोर्टल www.cbseitems.nic.in से डाउनलोड़ कर सकते हैं अथवा जवाहर नवोदय विद्यालय , मौली, जिला पंचकूला के कार्यालय से प्राप्त कर सकते हैं ।

For Detailed News-

उन्होंने बताया कि इस हेतु यूजर आईडी में अपना पंजीकरण संख्या एवं पासवर्ड में विद्यार्थी की जन्म तिथि अंकित करनी होगी। समस्त आवेदक समय से परीक्षा केन्द्र पर पहुँच कर परीक्षा में शामिल हों एवं कोविड़ -19 महामारी से बचने के सुरक्षा उपार्यों का विशेष ध्यान रखें। उन्होंने बताया कि प्रत्येक विद्यार्थी के मुँह पर मास्क लगा हुआ हो, सामाजिक दूरी का ध्यान रहे इत्यादि।

https://propertyliquid.com

उन्होंने बताया कि विस्तृत जानकारी के लिए जवाहर नवोदय विद्यालय के दूरभाष संख्या 9816159535 एवं 8529734556 पर संपर्क कर सकते हैं ।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

गुरुओं के दिखाए मार्ग पर चल कर हम समाज के उत्थान में अपना अहम योगदान दे सकते है- सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल

हरियाणा के सहकारिता मंत्री ने गुरु पूर्णिमा के अवसर पर गुरु रविदास जी महाराज से लिया आशीर्वाद

For Detailed News-

पंचकूला, 24 जुलाई- हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि हम सभी को गुरुओं का आशीर्वाद लेना चाहिए। गुरुओं के दिखाए मार्ग पर चल कर हम समाज के उत्थान में अपना अहम योगदान दे सकते है।

सहकारिता मंत्री आज जिला पंचकूला के पिंजौर में स्थित गुरु रविदास जी महाराज के मंदिर में गुरु पूर्णिमा के अवसर पर माथा टेकने के उपरांत मीडिया से बातचीत कर रहे थे ।

उन्होंने कहा कि आज गुरु पूर्णिमा का पवित्र दिन है और वे आज यहां गुरु रविदास जी महाराज का आशीर्वाद लेने आए हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार द्वारा महापुरूषों और गुरुओं के नाम से समारोह व कार्यक्रम आयोजित करवाये जाते है ताकि लोग ऐसे महापुरूषों की शिक्षाओं से सीख ले सकें और आने वाली पीढ़ियों इन महापुरूषों की शिक्षाओं को अपने जीवन मे अपनाकर आगे बढ़ सके ।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की नेतृत्व वाली वर्तमान हरियाणा सरकार ने हर वर्ग का विकास व उत्थान तथा कल्याण करने के लिए व्यवस्थाओं में आमूलचूल परिवर्तन करने का काम किया है जिसके तहत अनुसूचित जाति व पिछड़े वर्ग के उत्थान के लिए विभिन्न नीतियों व योजनाओं को क्रियान्वित किया जा रहा हैं।

सहकारिता मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने चार महापुरूषों संत शिरोमणि गुरू रविदास जी, संत कबीरदास जी, महर्षि बाल्मीकि जी तथा डा0 बी0आर0 अम्बेडकर जयंती पर प्रतिवर्ष राज्य स्तरीय समारोह आयोजित करने का निर्णय लिया हुआ है। उन्होंने गुरु रविदास जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ऐसा माना जाता है कि मध्ययुगीन साधकों में संत रविदास जी का विशिष्ट स्थान है जिनको बाद में संत शिरोमणि की उपाधि से नवाजा गया। वहीं, उनकी प्रतिष्ठा को देखते हुए बहुत से राजा-महाराजा उनके शिष्य बन गए। गुरू रविदास जी कबीर की तरह ही उच्च कोटि के प्रमुख संत कवियों में विशिष्ट स्थान रखते हैं और स्वयं कबीरदास जी ने संतन में रविदास कहकर इन्हें मान्यता भी दी है।

उन्होंने कहा कि हम सभी को गुरुओं का आशीर्वाद लेना चाहिए तभी हम आगे जीवन में बढ़ पाएंगे।

https://propertyliquid.com

इस मौके पर मंदिर के संत भक्त सुख दर्शन दास जी, प्रधान रणजीत सिंह, चेयरमैन ओमप्रकाश कनौजिया, वाइस चेयरमैन कश्मीर सिंह, जनरल सेक्रेटरी बलवीर गुरे, गुरु रविदास विश्व महापीठ पिंजौर के जिला अध्यक्ष परमजीत कोर पम्मी के अलावा अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

PU Professor Awarded

Chandigarh July 24, 2021

For Detailed News-

Prof. Sanjay Chhibber from the Department of Microbiology, Panjab University got life time achievement award during an online ceremony of IInd International Conference on Bacteriophage Research organized by Society for Bacteriophage Research and Therapy from 22nd to 24th July, 2021.

https://propertyliquid.com

Prof. Chhibber has devoted 42 years in the teaching and research of microbiology at Panjab University. He was awarded lifetime devotion award by the Microbiology Society in 2019.  He has published 265 research papers in national and international journals of repute, with 52 publications in bacteriophage therapy. At present he is serving as Emeritus Scientist (ICMR) in the department.

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

PU Extends Golden Chance Date

Chandigarh July 24, 2021

For Detailed News-

Keeping in mind the interest and requests from the students, Panjab University authorities have allowed extension of filling up forms of Golden Chance category upto 28th July, 2021 (Wednesday) ,informed  Dr Jagat  Bhushan, Controller of Examinations

https://propertyliquid.com

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

संभावित बाढ़ के दृष्टिïगत सतर्क रहें अधिकारी व कर्मचारी : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 24 जुलाई।

For Detailed News-

-उपायुक्त ने संभावित बाढ़ बचाव प्रबंधों को लेकर अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ की बैठक, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश
-उपायुक्त अनीश यादव ने संभावित बाढ़ क्षेत्रों का किया निरीक्षण, अधिकारियों को दिए निर्देेश
-ग्राम सचिव व पटवारी अपने-अपने संभावित बाढ़ क्षेत्रों में लगातार रखें निगरानी, ग्रामीणों से बनाएं रखें तालमेल


उपायुक्त अनीश यादव ने कहा कि अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे संभावित बाढ़ वाले क्षेत्रों पर विशेष निगरानी रखें और सभी आवश्यक प्रबंधों को समय रहते पुख्ता कर लिया जाए। कोई भी असामान्य परिस्थिति होने पर तुरंत प्रशासन को सूचित किया जाए, ताकि समय रहते उस स्थिति को नियंत्रित किया जा सके।


ये निर्देश उन्होंने आज लघुसचिवालय स्थित बैठक कक्ष में संभावित बाढ को लेकर आयोजित बैठक में संंबंधित अधिकारियों को दिए। बैठक में सिंचाई, बिजली, पंचायत विभाग के अधिकारियों के अलावा ग्राम सचिव व पटवारी भी उपस्थित थे। इस अवसर पर एसडीएम सिरसा जयवीर यादव, एसडीएम कालांवाली विजय सिंह, एसई सिंचाई विभाग एआर भांभू सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित थे। बैठक उपरांत उपायुक्त ने मुसाहिबवाला, नेजाडेला, फरमाई खुर्द, मीरपुर सहित घग्घर के साथ लगते तटबंधों व पुलों का निरीक्षण भी किया और मौके पर उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने मौके पर उपस्थित संभावित बाढ़ को लेकर ग्रामीणों से बातचीत करते हुए बाढ़ नियंत्रण कार्यों में प्रशासन का सहयोग करने को कहा।


उन्होंने कहा कि ग्राम सचिव व पटवारियों से कहा कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में संभावित बाढ़ को लेकर सतर्क रहें और लगातार निगरानी बनाएं रखें तथा ग्रामीणों से तालमेल रखें। वे घग्घर के तटबंधों व अन्य सुरक्षा प्रबंधों पर नजर रखें, जहां कही भी उन्हें तटबंधों पर तट व पाईपों की लीकेज का पता चलें तो तुरन्त अधिकारियों के नोटिस में लाएं, ताकि समय रहते उस कार्य को पूरा किया जा सके। उन्होंने कहा कि जहां कहीं भी उन्हें घग्घर तटबंधों पर कट आदि दिखाई दे या मुख्य बांधों में किसी प्रकार की कमियां नजर आए तो तुरन्त संबंधित अधिकारी को सूचित करें ताकि समय रहते इस प्रकार की कमियों को दूर किया जा सके। उन्होंने कहा कि संभावित बाढ से प्रभावित होने वाले गांवों पर विशेष फोकस रखें तथा बढ़ते जल स्तर के बारे में उच्च अधिकारियों को अपडेट करवाते रहें। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम अपने-अपने क्षेत्रों में संभावित बाढ़ बचाव कार्यों की समय-समय पर मोनिट्रींग करते रहें।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बाढ़ नियंत्रण कार्यों का निरीक्षण करते हुए सर्व प्रथम मुसाहिबवाला में घग्घर लिंक नहर में आ रहे पानी बहाव का निरीक्षण किया। उन्होंनेे सिंचाई विभाग को निर्देश दिए कि समय-समय पर घग्घर में बढ़ रहे जल स्तर की निगरानी रखें और इसकी सूचना समय पर प्रशासन को दें। उन्होंने घग्घर के आसपास के गांवों के नागरिकों से भी अपील की है कि वे घग्घर नदी की निगरानी रखें और कहीं से बहाव की शिकायत है तो तुरंत प्रशासन की नजर में लाया जाए। पानी में रुकावट पैदा न हो इसके लिए पानी में तैर कर आ रहे जलखुंब को निकाल दें या उन्हें पुल के नीचे इक_ïा न होने दें। उन्होंने कहा कि फील्ड की टीमों का बाढ़ नियंत्रण कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका होती है, इसलिए वे पूरी तरह से अलर्ट रहें।


उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे अपने-अपने विभाग से संबंधित पंप, बलियां व अन्य चीजों का पूरा प्रबन्ध रखें और जिन गांवों में संभावित बाढ़ का खतरा होता है उन गांवों में पहले से ही संबंधित सामान रखवा दें। उन्होंने कहा कि जेसीबी मशीन व गांवों में ट्रेक्टर, ट्रालियों आदि का उचित प्रबंध रखें। जिस गांव में पानी भरने की संभावना हो, उस गांव के लोगों को पहले से ही अवगत करवाएं।  उन्होंने तहसीलदार व खंड विकास एवं पंचायत अधिकारियों से कहा कि वे अपने अधीन पटवारी, ग्राम सचिव आदि को एक्टीवेट रखें तथा गांव की चौपालों, गुरुद्वारों व धर्मशालाओं की पहले से ही सफाई करवाएं। इसके साथ ही गांवों के सरपंचों व नंबरदारों से तालमेल रखें। उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये कि वे भी अपने विभाग से संबंधित तैयारी पूर्ण रखें।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

बागवानी को बढ़ावा देने के लिए किसानों को दिया जा रहा है 100 प्रतिशत तक का अनुदान : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 22 जुलाई।

-उपायुक्त ने किसानों से की बागवानी फसलों को अपनाने की अपील

For Detailed News-


प्रदेश सरकार द्वारा बागवानी क्षेत्र को बढ़ावा देने और किसानों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से विभिन्न योजनाओं के तहत बागवानी फसलों पर 25 से 100 प्रतिशत तक का अनुदान दिया जाता है।
उपायुक्त अनीश यादव ने किसानों से बागवानी फसलों को अपनाने का आह्वान करते हुए कहा वे कम पानी का इस्तेमाल कर बागवानी फसलों से ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं। इसलिए किसान बागवानी अपनाकर प्रदेश सरकार की  योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं।


उपायुक्त ने बताया कि एकीकृत बागवानी विकास मिशन के तहत किसानों के खेतों पर सामान्य दूरी पर पौधारोपण हेतू नींबू, अमरूद, अनार व बेरी के बाग लगाने हेतू 50 प्रतिशत अनुदान राशि दिए जाने का प्रावधान है जो कि नींबू पर 12002 रुपये, अमरूद पर (6मीटर&6मीटर) 11502 रुपये, अमरूद पर (3मीटर&6मीटर) 14495 रुपये, अनार पर 15900 रुपये व बेर पर 8502 रुपये प्रति हैक्टेयर की दर से दिए जाने का प्रावधान है। हाईब्रिड सब्जी उत्पादन तहत किसानों के खेतों में हाईब्रिड सब्जी लगाने के लिए 20 हजार रुपये प्रति हैक्टेयर की दर से 40 प्रतिशत अनुदान राशि किसानों को दी जाती है। पोली हाऊस व नैट हाऊस स्थापित करने हेतू 65 प्रतिशत की दर से अनुदान राशि प्रदान की जाती है। पोली हाऊस व नैट हाऊस में हाई वैल्यू सब्जियों के अनुदान इस मद् में ज्यादा मूल्य वाले हाईब्रिड सब्जी बीजों जैसा कि खीरा, टमाटर, शिमला मिर्च इत्यादि सब्जियों के पोली हाऊस/नैट हाऊस में उत्पादन करने पर 70 रुपये प्रति वर्गमीटर की दर से अनुदान राशि दी जाती है। आईपीएम व आईएनएम मद् में सब्जियां तथा बागों के तत्व प्रबंधन हेतू 1200 रुपये प्रति हैक्टेयर की दर से 30 प्रतिशत अनुदान राशि के रूप में किसानो को दी जाती है।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बताया कि मधुमक्खी पालन में प्रति किसान अधिकतम 50 मधुमक्खी के बक्से व 400 फ्रेम दिए जा सकते हंै। इस योजना के तहत किसानों को 85 प्रतिशत तक अनुदान दिया जा रहा है। बागवानी मशीनीकरण इस मद में छोटे टैक्ट्रर (20 बीएचपी तक), पावर टिलर, पौधों पर स्प्रे करने का यंत्र इत्यादि (500 से 1000 लीटर ट्रैक्टर लिफ्टिड पॉवर स्प्रे पम्प), बैटरी चालित स्प्रै पम्प, इंजन चालित स्प्रै पम्प इत्यादि पर किसानों 25 से 50 प्रतिशत तक अनुदान दिया जा सकता है। पैक हाऊस इस मद में किसानों को दो लाख रुपये प्रति इकाई 50 प्रतिशत अनुदान रूप में अनुदान राशि दी जाती है। कोल्ड स्टोरेज में किसानों को एक करेाड़ 75 लाख रुपये प्रति इकाई 35 प्रतिशत अनुदान रूप में दी जाती है। उन्होंने बताया कि एकीकृत खुंभ उत्पादन कंपोस्ट मैकिंग में 40 प्रतिशत अनुदान के साथ 8 लाख रुपये तक का अनुदान दिया जाता है। इसी प्रकार से पुराने बागों का सुधार और नवीनीकरण करने के लिए 20 हजार रुपये प्रति हैक्टेयर 50 प्रतिशत अनुदान दिया जाता है।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

दलितों को न्याय सुनिश्चित करने के लिए आयोग द्वारा बनाए गए विशेष पोर्टल संबंधी करवाया अवगत

चंडीगढ़, 22 जुलाई:

For Detailed News-

सांपला ने उप-राष्ट्रपति वैकेंया नायडू से की भेंट:

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला ने भारत के उप-राष्ट्रपति श्री वैकेंया नायडू से एक विशेष मुलाकात की। विजय सांपला की बतौर चेयरमैन उप राष्ट्रपति के साथ यह एक शिष्टचार भेंट रही।

बैठक दौरान सांपला ने श्री नायडू को अनुसूचित जाति वर्ग को आयोग के माध्यम से जल्द न्याय दिलाने के लिए किए गए नए प्रावधानों संबंधी अवगत करवाया। इस मौके सांपला ने नेशनल एससी कमीशन द्वारा शुरू की गई ऑनलाइन शिकायत निवारण पोर्टल संबंधी भी जानकारी दी।

सांपला ने उप-राष्ट्रपति को जानकारी दी कि पोर्टल के माध्यम से देश के किसी भी हिस्से से पीडि़त व्यक्ति न्याय के लिए अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है। उन्होंने पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने से लेकर उक्त शिकायत को ट्रेक करने संबंधी कार्य को ई-फाइलिंग की दी गई सुविधा की विस्तृत जानकारी दी।

सांपला ने श्री नायडू को बताया कि कैसे पोर्टल पर दलित अत्याचारों के केसों की सुनवाई प्रक्रिया ई-कोर्ट की तरह ही काम कर रही है। उन्होंने बताया कि उक्त पोर्टल आयोग की वैबसाइट से सीधे जुड़ा हुआ है, तथा पोर्टल पर दर्ज शिकायत सीधे आयोग के समक्ष दर्ज होती है। उन्होंने बताया कि पोर्टल पर शिकायत के साथ अन्य ऑडियो/वीडियो फाइलें भी अपलोड करने की सुविधा भी दी गई हैं।

https://propertyliquid.com

इस मौके श्री नायडू ने सांपला की अगुवाई में आयोग द्वारा दलितों को न्याय सुनिश्चित करने के लिए किए जा रहे प्रयासों के लिए बधाई व शुभकामनाएं दी।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

सूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत पंचकूला जिला में उपचारित अपशिष्ट जल का प्रयोग करने के लिये 5 एमएलडी क्षमता के दो सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट कालका व पिंजौर में लगाये जा रहे है-उपायुक्त

For Detailed News-

पंचकूला, 22 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज चंडीगढ़ से वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से राज्य के सभी जिला उपायुक्तों के साथ बैठक की तथा जिलों में सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं के प्रभावी क्रियांव्यन तथा परिवार पहचान पत्र कार्यक्रम के तहत इनकम वेरिफिकेशन की प्रगति की समीक्षा की।


बैठक में उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि सूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत पंचकूला जिला में उपचारित अपशिष्ट जल का प्रयोग करने के लिये 5 एमएलडी क्षमता के दो सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट कालका व पिंजौर में लगाये जा रहे है, जिसके लिये लगभग 8 करोड़ रुपये की राशि कालका में लगने वाले एसटीपी के लिये व 7.25 करोड रुपये की राशि पिंजौर में लगने वाले एसटीपी के लिये स्वीकृत हुई है। उन्होंने बताया कि दोनों एसटीपी को लगाने के लिये टेंडर एक सप्ताह में अलाॅट कर दिये जायेंगे।


उपायुक्त ने बताया कि जिला में कुल 60 हजार एकड़ कृषि योग्य भूमि है, जिसमें से 37 हजार एकड ट्यूब्वैल पर आधारित है तथा 23 हजार एकड बरसाती पानी पर निर्भर हैं। उन्होंने कहा कि क्योंकि जिला में भूमिगत जल स्तर बेहतर है इसलिये 100 एकड भूमि को सूक्ष्म सिंचाई परियोजनाओं के तहत लिया गया हैं। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं के तहत 17 नये आवेदन प्राप्त हुये हैं। ये सभी आवेदन ट्यूब्वैल आधारित सिंचाई योजनाओं के लिये है, जिसके तहत 50 एकड भूमि का लक्ष्य रखा गया हैं।


उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय सिंचाई समिति के माध्यम से सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं का प्रचार प्रसार किया जायेगा ताकि जिला में वर्षा के पानी पर निर्भर किसान सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठा सके।  उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय सिंचाई समिति की बैठक 28 जुलाई को आयोजित की जायेगी, जिसमें सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं तथा लिफ्ट सिंचाई योजना के प्रभावी क्रियांवयन पर चर्चा की जायेगी। श्री विनय प्रताप सिंह ने कहा कि जिला में 23 हजार एकड़ भूमि पर सिंचाई नहीं की जाती, जिसमें से अधिकतम क्षेत्र पिंजौर का है। उन्होंने कहा कि मोरनी क्षेत्र के लिये एक योजना बनाई जायेगी, जिसके तहत बरसाती पानी का संग्रहण कर सूक्ष्म सिंचाई के माध्यम से खेती में प्रयोग किया जा सकेगा।

https://propertyliquid.com


बैठक में श्री विनय प्रताप सिंह ने अवगत करवाया कि जिला परिवार पहचान पत्र के तहत इनकम वैरिफिकेशन का 70 प्रतिशत कार्य पूरा हो गया है तथा 30 प्रतिशत काम आगामी एक सप्ताह में पूरा कर लिया जायेगा।


बैठक के उपरांत श्री विनय प्रताप सिंह ने सूक्ष्म सिंचाई और कमांड क्षेत्र विकास प्राधिकरण (मिकांडा), सिंचाई व कृषि विभाग के संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये कि वे जिला में 100 एकड भूमि पर स्थापित सूक्ष्म सिंचाई संयत्रों का सर्वें करें तथा अपनी रिपोर्ट 28 जुलाई को आयोजित होने वाली जिला स्तरीय सिंचाई समिति की बैठक में प्रस्तुत करें।


इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा, सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता अनुराग गोयल, डीआईओ सतपाल शर्मा व अन्य विभागों के संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

F&CC Meeting held

For Detailed News-

Chandigarh, July 22:- A meeting of Finance and Contract committee of Municipal Corporation Chandigarh was held here today under the chairmanship of Sh. Ravi Kant Sharma, Mayor and attended by Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner and other members of committee namely Smt. Sunita Dhawan, councilor. Sh. Tilak Raj and Sh. S.K. Jain, Additional Commissioners, Sh. Rohit Gupta, Joint Commissioner, Sh. N.P. Sharma, Chief Engineer, Sh. Inderjeet Gulati, SE (B&R), Sh. K.P. Singh, SE (Horticulture), Dr. Amrit Warring, Medical Officer of Health and other concerned officers of MCC.

During the meeting, the committee accorded approval to following important agenda items:-

·        The Committee discussed the agenda item in detail regarding contract for Animal Birth Programme and decided that re-tender may be invited to carry out the function further.

·        The Committee also discussed and accorded approval regarding relaxation in monthly license fee for kiosm No.1,2,3, & 4 at Night Food Street, Sector 14, Chandigarh.

The committee members also discussed and decided that a combined cleanliness drive will be carried out to remove C&D waste, Horticulture waste and Garbage from vulnerable points from the city.

https://propertyliquid.com

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ने जनता दरबार में 60 लोगों की समस्याओं का किया निपटारा।

संबंधित अधिकारियों को मौके पर फोन कर जल्द समस्या का समाधान करने के दिए निर्देश।

For Detailed News-

पंचकूला, 22 जुलाई- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने आज सेक्टर 2 में जनता दरबार लगाकर लोगों की समस्याएं सुनी। उन्होंने दरबार में मौके पर ही 60 समस्याओं का निपटारा किया।
  श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने आज जनता दरबार में अनेक  लोग अपनी समस्या लेकर आए थे जिसमें करीब 100 से 150 लोग शामिल थे। श्री गुप्ता ने बताया कि जनता दरबार में ज्यादातर समस्याएं पानी भराव व पानी की निकासी, रोजगार और सेक्टरों के गेट को लेकर आई हैं। उन्होंने बताया कि कुछ समस्याओं के समाधान के लिये अधिकारियों को टेलीफोन व लिखित में भेजा है। उन्होंने इन समस्याओं के जल्द ही समाधान करने के निर्देश दिये है। उन्होंने रोजगार को लेकर भी आये हुये युवकों को जल्द काम दिलवाने का आश्वासन दिया।


पत्रकारों द्वारा पूछे गये प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि सरकार दिव्यांगों की मदद के लिये हर संभव प्रयास कर रही है। हमने पीछे भी 450 दिव्यांगों को कृत्रिम अंग वितरित किये थे और अगले महीने भी 350 दिव्यांगों को उनकी आवश्यकतानुसार कृत्रिम अंग वितरित किये जायेंगे। एक दिव्यांग जोड़े के बारे में किये गये प्रश्न के उत्तर में श्री गुप्ता ने कहा कि उन्होंने दिव्यांग जोड़े को सेक्टर-15 के वेन्डिंग जोन में स्थाई जगह दिलवाई है और उनका 50 प्रतिशत किराया भी कम करवाने के प्रयास किये जायेंगे ताकि उनका जीवनयापन सही तरीके से हो सके।

https://propertyliquid.com


इस अवसर पर बीजेपी के जिला प्रधान अजय शर्मा, जिला बीजेपी उपाध्यक्ष उमेश सूद, जिला संगठन महामंत्री वीरेंद्र राणा, परमजीत कौर, बरवाला के मंडलाध्यक्ष गौतम राणा, पार्षद रितु गोयल, नरेंद्र लुबाना, मंडल कालका अध्यक्ष भुवनजीत सिंह, मनसा देवी मंडलाध्यक्ष युवराज कौशिक, चंडी मंदिर के मंडलाध्यक्ष संदीप यादव , पार्षद नरेंद्र लुबाना व जय कोशिक सहित अन्य पार्षद भी थे।