DLIS organized Alumni meet

कलेक्टर रेट पर आपत्ति 31 जनवरी तक करवाई जा सकती है दर्ज : उपायुक्त प्रदीप कुमार

सिरसा, 21 जनवरी।


                उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बताया कि सिरसा जिला की सभी तहसीलों/ उपतहसीलों के कलेक्टर रेट वर्ष 2021-22 की प्रस्तावित सूचि तैयार करके वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट सिरसा डॉट जीओवी डॉट इन पर अपलोड कर दी गई है। जिला के किसी नागरिक या प्रोपर्टी डीलर को प्रस्तावित सूचि के संबंध में कोई एतराज / आपत्ति है तो वे 31 जनवरी 2021 से पूर्व जिला राजस्व अधिकारी कार्यालय में अपनी आपत्ति दर्ज कर सकता है।

For Detailed News-


                उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बताया कि जिला सिरसा के कलेक्टर रेट 2021-22 से संबंधित यदि आमजन या प्रोपर्टी डीलर को कोई आपत्ति हैं तो निर्धारित तिथि से पूर्व जिला राजस्व अधिकारी कार्यालय में दर्ज करवा सकते हैं। इसके अलावा आमजन को अपरुवड कॉलोनी / अनअपरुवड कॉलोनी बारे भी कोई आपत्ति है तो वे भी अपनी आपत्ति दर्ज करवा सकें। उन्होंने बताया कि तहसीलदार/कार्यकारी अधिकारी नगर परिषद सिरसा व जिला नगर योजनाकार को निर्देश दिए कि वे आपसी समन्वय बनाते हुए गांव व शहर के मुरबा / खसरा नंबर का अलग सैगमेंट बनाएं। लाईसेंस शुदा कॉलोनी, एचएसपीपी, एचएसआईडीसी, कॉपरेटिव हाउसिंग सोसायटी फ्लेट आदि मामलों में प्रथम मंजिल, द्वितीय श्रेणी व तृतीय श्रेणी के रेट अलग-अलग निर्धारित किए जाए।

https://propertyliquid.com


                उन्होंने बताया कि प्रस्तावित कलैक्टर रेट सिरसा डॉट जीओबी डॉट इन पर अपलोड कर दिए गए है। यदि आमजन, प्रोपर्टी डीलर या अन्य किसी भी व्यक्ति को कलेक्टर रेट से सम्बधित कोई आपत्ति है तो वे ऑनलाइन आपत्ति 31 जनवरी 2021 से पहले लघु सचिवालय स्थित जिला राजस्व अधिकारी कार्यालय में अपनी आपत्ति दर्ज करवा सकते है। उन्होंने बताया कि निर्धारित तिथि के उपरांत किसी भी आपत्ति पर कोई विचार नहीं किया जाएगा।

DLIS organized Alumni meet

पंचकूला में राज्य स्तरीय गणतन्त्र दिवस समारोह की तैयारियां करते हुए स्कूली छात्र एवं उपस्थित अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद ईमरान रजा व शिक्षा विभाग के अधिकारी।

पंचकूला  21 जनवरी- उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि राज्य स्तरीय गणतन्त्र दिवस समारोह में 26 जनवरी को सैक्टर 5 स्थित परेड ग्राउण्ड में हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ध्वजारोहण करेंगे और मार्च पास्ट की सलामी लेंगे।


उपायुक्त ने बताया कि गणतन्त्र दिवस समारोह पर राज्यपाल सैक्टर 12 ए स्थित शहीद स्मारक पर शहीदों एवं स्वतन्त्रता सेनानियों को श्रद्वासुमन अर्पित करेंगें। इसके बाद परेड ग्राउण्ड में राष्ट्रीय ध्वज फहराएगें। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा तैयारियां की जा रही है। परेड ग्राउण्ड में सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं परेड की रिहर्सल आयोजित की गई।


उपायुक्त ने बताया कि सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं परेड की लगातार 22  व 23 जनवरी को रिहर्सल करवाई जाएगी तथा 24 जनवरी को फाईनल रिहर्सल का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि फाईनल रिहर्सल में सभी प्रतिभागी हुबहु फुल ड्रैस एवं निर्धारित समय पर प्रातः 9.58 बजे भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि सांस्कृतिक कार्यक्रमों में विभिन्न स्कूलों के लगभग 150 छात्र पीटी शो एवं डम्बल का शानदार प्रदर्शन करेंगें। इसके अलावा स्कूली विद्यार्थियों द्वारा योगा प्रस्तुति दी जाएगी। कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्य विभाग द्वारा हरियाणवी एवं राष्ट्रीय संस्कृति से ओपप्रोत हरियाणवी डांस, संस्कृति माॅडल स्कूल के विद्यार्थियों द्वारा ग्रुप सांॅग, राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सैक्टर 6 के विद्यार्थियांे द्वारा पड़ौसी राज्य का गिद्वा प्रस्तुत किया जाएगा।  


उपायुक्त ने बताया कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सैक्टर 7 के विद्यार्थियों द्वारा कोरोना वायरस को लेकर एक्शन प्ले प्रस्तुत किया जाएगा तथा राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सैक्टर 15 की छात्राएं राजस्थानी नृत्य तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सैक्टर 19 के विद्यार्थी हरियाणवी गीत की  प्रस्तुति देंगी।


उपायुक्त ने बताया कि परेड, पीटी शो, डम्बल व सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रिहर्सल अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद ईमरान रजा की अध्यक्षता में आयोजित की गई। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी उर्मिल रानी सहित शिक्षा विभाग के कई अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

DLIS organized Alumni meet

नागरिक 31 जनवरी तक दर्ज करवा सकते हैं अपनी आपत्तियां-उपायुक्त

पंचकूला, 21 जनवरी।  उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि हरियाणा सरकार के आदेशानुसार नागरिकों के लिए कलेक्टर रेट पर दावें आपत्तियां दर्ज करवाने की समय सीमा को बढ़ाया गया है। अब कोई भी नागरिक जिला के लिए निर्धारित किए गए कलेक्टर रेट पर आगामी 31 जनवरी तक अपने दावें व आपत्तियां दर्ज करवा सकते हैं। इससे पहले कलेक्टर रेट पर दावें व आपत्तियां दर्ज करवाने के लिए 15 जनवरी 2021 निर्धारित की गई थी।

For Detailed News-


उपायुक्त ने बताया कि सरकार ने कलैक्टर रेट निर्धारण करने के लिए नागरिकों के सुझाव एवं आपतिंयो हेतू जनजागरण अभियान की शुरूआत की है ताकि जनता के अमूल्य सहयोग से जिला में पारदर्शिता व सुशासन को अधिक बल मिल सके। इसके लिए सरकार की जारी गाइडलाइन और हिदायतोंनुसार नई प्रणाली के तहत जिला में भूमि के कलेक्टर रेट निर्धारित किए गए है। कलेक्टर रेट के निर्धारण के बाद प्रस्तावित सूची जिला पंचकूला panchkula.nic.in   के पोर्टल पर भी डाली गई। इसके अलावा तहसीलों में भी यह सूची नागरिकों के लिए रखी गई। नागरिक पंचकूला पोर्टल पर लिखित या जिला सचिवालय के कमरा न0 325 में दस्ती भिजवाना सुनिश्चित करें।


उपायुक्त ने पंचकूला व कालका के एसडीएम को नम्बरदारों के ग्रुप के माध्यम से तथा संबधित तहसीलदारों को पटवारियों के माध्यम, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी को सरंपचों व चैकीदारों के माध्यम से सुझाव एवं आपतियां दर्ज करवाने के लिए प्रेरित करने के निर्देश दिए गए है।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बताया कि कलेक्टर रेट निर्धारित करने के लिए एक कमेटी का गठन सचिव नगर निगम, तहसीलदार व संबंधित एसडीएम द्वारा किया गया। इसके उपरांत अतिरिक्त उपायुक्त व उपायुक्त स्तर पर भी इसका मूल्यांकन कर अंतिम रूप दिया गया है। गांवों और कॉलोनियों के स्तर पर ये कलेक्टर रेट निर्धारित किए गए है। उन्होंने बताया कि कलेक्टर रेट पर प्राप्त होने वाले दावें व आपत्तियों का निपटान आगामी 15 फरवरी तक किया जाएगा। उसके उपरांत यह सूची सरकार को अंतिम रूप के लिए भेजी जाएगी ओर आगामी एक अप्रैल 2021 से नये कलेक्टर रेट क्रियांवित किए जाएंगे।

DLIS organized Alumni meet

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना में किसानों का पंजीकरण अनिवार्य-उपायुक्त

पंचकूला 21 जनवरी- उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में किसानों के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा स्कीम की भांति हरियाणा सरकार द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल की शुरूआत की गई है जिसके तहत किसानों को रबी 2020-21 में बोई गई फसलों का विवरण मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल (fasal.haryana.gov.in)  पर दर्ज  करवाना होगा।

For Detailed News-


उपायुक्त ने बताया कि  सरकार की अति महत्वपुर्ण स्कीम हैं जिसके तहत किसानों द्वारा अपने कृषि उत्पादों को मण्डियों में बेचने एंव कृषि या बागवानी विभाग से सम्बन्धित योजनाओं का लाभ उठाने हेतू अपनी फसलांे का पंजीकरण मेरी फसल मेरा ब्यौरा में करवाना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि पंजीकरण के लिए किसान अपने नजदीकी काॅमन सर्विस सैन्टर या कृषि अधिकारी से सम्पर्क कर सकते हैं।


उपायुक्त ने बताया कि सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए जैसे कि फसल बिक्री, कृषि यन्त्रों पर सब्सिडी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना इत्यादि का लाभ केवल इस पोर्टल  पर पंजीकृत किसानों को ही दिया जाएगा। इसके अलावा रबी 2020-21 मंे बोई गई फसलों की खरीद भी इस योजना के तहत की जाएगी। इसलिए किसानों द्वारा इस पोर्टल पर अपना पंजीकरण करवाना अनिवार्य है चाहे वो अपनी फसल मण्डी में बेचना चाहते हैं या नही चाहते हो। किसानों के लिए अपनी फसलों के पंजीकरण हेतू परिवार पहचान पत्र का होना अनिवार्य है।

https://propertyliquid.com

अतः किसानों से अनुरोध है कि शीघ्र अति शीघ्र उक्त पोर्टल पर अपना पंजीकरण करवाने का कष्ट करें ताकि फसलों की बिक्री में कोई समस्या का सामना ना करना पडे़।

DLIS organized Alumni meet

सड़क सुरक्षा नियमों की पालना में प्रशासन की सहयोगी बनें आमजन : उपायुक्त प्रदीप कुमार

सिरसा, 21 जनवरी।


उपायुक्त प्रदीप कुमार ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि वाहन चालक या सड़क पर चलने वाला हर व्यक्ति सड़क सुरक्षा नियमों की पालना जरूर करें। नियमों की अनुपालना करके ही हम सड़क हादसों को कम कर सकते हैं। सड़क सुरक्षा माह मनाए जाने का उद्ेश्य तभी सार्थक होगा, जब हम यातायात नियमों के प्रति स्वयं जागरूक होकर प्रशासन के सहयोगी बनेंगे।

For Detailed News-


उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटना में एक भी जान जाना किसी भी परिवार व समाज के लिए बड़ा ही दुखदायी होता है। प्रदेश सरकार सड़क हादसों को कम करने तथा इससे होने वाली मृत्यु को शून्य करने की दिशा में अनेकों कदम उठा रही है। इसी कड़ी में जिला में राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह चलाया जा रहा है, जोकि 18 फरवरी तक चलेगा। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा माह का उद्ेश्य लोगों को सड़क सुरक्षा नियमों के प्रति जागरूक करके इस दिशा में सार्थक परिणाम प्राप्त करने का है और यह तभी संभव होगा जब हर व्यक्ति जागरूक होकर प्रशासन का इसमें सहयोग करेगा। उन्होंने कहा कि यातायात नियमों की अनदेखी या उल्लंघना करके व्यक्ति न केवल स्वयं को बल्कि दूसरों की जिंदगी भी खतरे में डालने का काम करता है। यदि हर व्यक्ति नियमों से सड़क पर वाहन चलाए या चले, तो सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश की संभावना को बल मिलेगा।
उपायुक्त ने कहा कि प्रशासन का पूरा प्रयास है कि सड़क दुर्घटनाओं पर पूर्ण अंकुश लगे। इसके लिए लोगों को जागरूक करने के साथ नियमों की उल्लंघना करने वालों के चालान भी किए जा रहे हैं। आमजन चालान के डर से नहीं अपितु अपनी जान की परवाह के लिए सड़क सुरक्षा नियमों की पालना करें। उन्होंने कहा कि अब सर्दी का मौसम है, जिसमें वाहन चालक को और अधिक सतर्कता व सावधानी के साथ वाहन चलाने की आवश्यकता होती है। हर वाहन चालक सबसे पहले तो यह सुनिश्चित करें कि उसके वाहन पर रिफलैक्टर पट्टी लगी है या नहीं। वाहन पर रिफलैक्टर पट्टी का होना बहुत जरूरी है, ताकि अंधेरे में आगे चल रहे वाहन की जानकारी रहे। उन्होंने कहा कि अधिक स्पीड में गाड़ी न चलाएं और इस प्रकार से ओवरटेक न करें जिससे कि हादसा होने की संभावना हो। उन्होंने कहा कि जरा सी असावधानी हादसे को अंजाम दे देती है।


उपायुक्त ने कहा कि दो पहिया वाहन चालक हेल्मेट जरूर पहनें, वहीं गाड़ी चालक व साथ की सीट पर बैठा व्यक्ति सीट बेल्ट का प्रयोग अवश्य करें। इसी प्रकार सड़क पर अपनी साइड पर चलना, सांकेतिक बोर्ड के अनुसार वाहन चलाकर, निर्धारित स्पीड पर गाड़ी चलाकर, वाहन को सड़क पर न खड़ा करके आदि छोटी-छोटी सावधानियां बरतकर हम संभावित सड़क हादसों को टाल सकते हैं। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा नियमों की पालना करके हम स्वयं भी सुरक्षित रहेंगे और दूसरों की भी सुरक्षा करने का काम करेंगे। 

https://propertyliquid.com

DLIS organized Alumni meet

पीपीपी कार्य में लाएं तेजी, 31 जनवरी से पहले टारगेट करें पूरा : एडीसी उत्तम सिंह

-बिना परिवार पहचान पत्र नहीं मिलेगा योजनाओं का लाभ, आमजन स्वयं आगे आकर बनवाएं परिवार पहचान पत्र : एडीसी


-अतिरिक्त उपायुक्त ने परिवार पहचान पत्र को लेकर की समीक्षा बैठक, अधिकारियों को दिए पीपीपी कार्य में तेजी लाने के दिशा-निर्देश

सिरसा 21 जनवरी।


अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने कहा कि परिवार पहचान पत्र के अपडेशन कार्य में और अधिक तेजी के साथ काम करने की जरूरत है, ताकि जिला में पीपीपी योजना कार्य को पूरा किया जा सके। संबंधित अधिकारी 31 जनवरी से पहले परिवार पहचान पत्र अपडेशन कार्य के निर्धारित लक्ष्य को शतप्रतिशत पूरा करें।

For Detailed News-


अतिरिक्त उपायुक्त वीरवार को लघुसचिवालय के सभागार में परिवार पहचान पत्र कार्य की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में डीएसपी संजय बिश्नोई, डीआईओ एनआईसी रमेश कुमार सहित विभागों के विभागाध्यक्ष उपस्थित थे। एडीसी ने सबसे पहले सभी विभागों के पीपीपी कार्य की समीक्षा की। जिस विभाग में कार्य धीमी गति से हो रहा है, उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि जिसे भी पीपीपी के अपडेट कार्य में कोई दिक्कत आ रही है, तो उस बारे डीआईओ एनआईसी या उन्हें अवगत करवाएं।


उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र(पीपीपी) योजना प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी योजना है। योजना कार्य की निगरानी व समीक्षा स्वयं मुख्यमंत्री कर रहे हैं। सिरसा जिला में योजना के निर्धारित लक्ष्य को 31 जनवरी तक पूरा किया जाना है। अधिकारी पीपीपी कार्य को प्राथमिकता देते हुए इस दिशा में और अधिक तेजी से कार्य करें। उन्होंने कहा कि अपडेट कार्य में कोई दिक्कत आ रही है या किसी संसाधन की आवश्यकता है, उसके लिए अवगत करवाएं। सभी अधिकारी अपने विभाग के सभी कर्मचारियों के परिवार पहचान पत्र अपडेट करवाएं। कोई भी अधिकारी या कर्मचारी ऐसा न रहे, जिसका पहचान पत्र न बना हो।

https://propertyliquid.com


अतिरिक्त उपायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे आमजन को परिवार पहचान पत्र की उपयोगिता व महत्व के बारे में जागरूक करें और इसे अपडेट अथवा बनवाने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ परिवार पहचान पत्र के माध्यम से ही मिलेगा। सरकार की लगभग योजनाएं पीपीपी से लिंक हो चुकी हैं। इसलिए आमजन को इस बारे जागरूक करें कि बिना परिवार पहचान पत्र के किसी भी योजना का लाभ नहीं मिलेगा, ताकि आमजन स्वयं आगे आकर अपना परिवार पहचान पत्र अपडेट करवाने के लिए प्रेरित हो सके। उन्होंने सभी बीडीपीओ को निर्देश दिए कि वे गांव का दौरा कर परिवार पहचान अपडेशन कार्य का निरीक्षण करें और व्यक्तिगत रूप से लोगों से मिलकर उन्हें अपना परिवार पहचान पत्र अपडेट करवाने के लिए जागरूक करें।


योजनाओं के लाभ के लिए परिवार पहचान जरूरी :


अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने आमजन से अपील करते हुए कहा कि परिवार पहचान पत्र हर परिवार व व्यक्ति के लिए जरूरी है। प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ अब केवल परिवार पहचान पत्र द्वारा ही मिलेगा। बुढापा पैंशन से लेकर लगभग सभी जनहितैषी योजनाओं के लिए पीपीपी को अनिवार्य किया गया है। इसलिए जिस भी व्यक्ति ने अपना परिवार पहचान पत्र नहीं बनवाया है, वो अपने नजदीकी सरल केंद्र या अटल सेवा केंद पर अपना परिवार पहचान पत्र अपडेट करवा लें। उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र को नि:शुल्क बनाया व अपडेट किया जाता है।

DLIS organized Alumni meet

विद्यार्थियों ने पूरे उत्साह व जोश से की गणतंत्र दिवस समारोह के सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रिहर्सल

सिरसा, 21 जनवरी।


             एसडीएम जयवीर यादव नगराधीश गौरव गुप्ता ने की देखरेख में वीरवार को स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में राष्ट्रीय पर्व जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह की रिहर्सल का आयोजन किया गया। नगराधीश ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों व परेड की तैयारियों का गहनता से जायजा लिया और आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। इस अवसर पर डीएसपी आर्यन चौधरी, सिक्योरिटी इंचार्ज सत्यवान, जिला शिक्षा अधिकारी संत कुमार, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी आत्म प्रकाश, एपीसी शशी सचदेवा, भारत स्काउट एवं गाइड के जिला सचिव सुखदेव सिंह ढिल्लो, डीपी सुभाष, प्रेम कंबोज, विक्रम कुमार, नवप्रीत सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

For Detailed News-


              एसडीएम जयवीर यादव ने बताया कि हर वर्ष की भांति गणतंत्र दिवस समारोह स्थानीय भगत सिंह स्टेडियम में धूमधाम से मनाया जाएगा। समारोह में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में स्कूली विद्यार्थियों द्वारा एक से बढकर एक प्रस्तुतियां दी जाएंगी। इसी कड़ी में आज स्कूली बच्चों ने विभिन्न सांस्कृतिक प्रस्तुतियों की रिहर्सल की। उन्होंने बताया कि 23 जनवरी को कार्यक्रम की फुल ड्रेस रिहर्सल समय अवधि अनुसार आयोजित की जाएगी। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए स्कूलों के विद्यार्थियों द्वारा एक्शन सांग, कॉरियोग्राफी, गिद्दा, हरियाणवी डांस, राजस्थानी डांस, भंगड़ा, देशभक्ति सांग, राष्ट्रीय गान की रिहर्सल करवाई गई। इस अवसर पर पीटी शो, परेड की रिहर्सल भी की गई। उन्होंने स्कूल इंचार्जों से कहा कि वे 26 जनवरी के लिए और अधिक तैयारियां करें तथा अपनी-अपनी प्रस्तुतियां समयबद्घ अवधि में सम्पन्न करवाएं।


सांस्कृतिक कार्यक्रम में इन स्कूलों ने लिया भाग :


              रिहर्सल में प्रयास स्कूल, दिशा स्कूल, श्रवणवाणी दिव्यांग विद्यालय के बच्चों ने एक्शन सांग ‘हम सब भारतीय हैÓ प्रस्तुत किया। इसके अलावा शाह सतनाम जी कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के विद्यार्थियों ने टेबल डांस ‘जय होÓ व क्षेत्रीय राजस्थानी डांस  ‘कालो कूद पडय़ों मेले मेंÓ, महाराजा अग्रसैन कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के बच्चों ने देशभक्ति एक्शन सांग ‘मेरी मां-प्यारी मांÓ, राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यायल चत्तरगढ़पट्टïी के बच्चों ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पर कॉरियोग्राफी, डीएवी स्कूल सिरसा के बच्चों ने राजस्थानी नृत्य ‘पधारो म्हारे देसÓ, विवेकानंद स्कूल सिरसा के बच्चों ने हरियाणवी नृत्य ‘कुटंब कबीलाÓ, राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के बच्चों ने गिद्दा ‘लोहड़ी तीयां दीÓ, राजकीय नैशनल कॉलेज सिरसा के बच्चों ने भंगड़ा ‘मैं गबरु देश पंजाब दाÓ, राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय नेजाडेलाकलां के विद्यार्थियों ने ‘ये देश है वीर जवानों काÓ तथा न्यू सतलुज वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय के बच्चों ने राष्टï्रीय गान की रिहर्सल की।

https://propertyliquid.com


परेड में इन टुकडिय़ों ने लिया भाग :


              परेड का ओवरऑल नेतृत्व डीएसपी आर्यन चौधरी ने किया। इस अवसर पर महिला पुलिस बल, पुलिस बल, गृह रक्षी बल, राजकीय नैशनल कॉलेज, राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय, जीआरजी कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय, राजकीय मॉडल संस्कृतिक वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय की एनसीसी, राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा की गल्र्स गाइड, राजकीय मॉडल संस्कृतिक वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा की स्काउट (प्रजातंत्र के प्रहरी), राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय खैरपुर की स्काउट (नैशनल ग्रीन कॉर्पस), भारत सैनिक वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय की स्काउट की टुकडिय़ों तथा महाराजा अग्रसैन स्कूल सिरसा की बैंड की टीम ने रिहर्सल में भाग लिया। 

DLIS organized Alumni meet

शहर को साफ सूथरा रखने में सफाई मित्रों का अहम योगदान-कुलभूषण गोयल

पंचकूला 20 जनवरी- नगर निगम पंचकूला के महापौर कुलभूषण गोयल ने सैक्टर 14 स्थित निगम कार्यालय के प्रांगण में सफाई कर्मचारियों को सफाई मित्र कार्यक्रम में कोविड -19 महामारी के मध्येनजर सुरक्षा किट वितरित किए। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता निगम आयुक्त आर के सिंह ने की।

For Detailed News-


इस अवसर पर महापौर ने सफाई मित्रों का मनोबल बढाते हुए कहा कि शहर में सफाई व्यवस्था बनाए रखने में इनकी अहम भूमिका है। सफाई व्यवस्था बनाए रखने को लेकर किए जा रहे सार्थक प्रयासो से स्वच्छ भारत मिषन 2021 में पंचकूला अवश्य ही पहले स्थान पर आएगा। उन्होंने सफाई मित्र व निगम अधिकारियों को परामर्श देते हुए कहा कि स्वच्छता अभियान को जनआन्दोलन का रूप दें। क्योंकि जनता की भागीदारी के बिना किसी लक्ष्य को हासिल नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि जनता की भागीदारी आवश्यक है तभी वांछित मुकाम हासिल किया जा सकता है।


उन्होंने कहा कि जिला के गांव झुरीवाला में ठोस कचरा प्रबंधन प्लांट लगाने का कार्य किया जा रहा है। इसके टैण्डर लगाए गए हैं। इसे प्राथमिकता के आधार पर पूरा कर शीघ्र ही कचरा प्रबंधन कार्य आरम्भ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सैक्टर 23 के डम्पिंग ग्राउण्ड से प्रतिदिन 600 टन कूड़ा कचरा साफ किया जा रहा है। इस प्रकार कचरे को समाप्त कर शीघ्र ही इस स्थान भव्य एवं सुन्दर पार्क का निर्माण किया जाएगा।
इस मौके पर निगम आयुक्त आर के सिंह ने कहा कि भारत सरकार द्वारा सफाई सुरक्षा चैलंेजर 19 योजना नवम्बर माह से लागू की गई है। इसकेे अलावा नागरिक सुरक्षा टोल फ्री नम्बर लागू करने दिशा में पंचकूला नगर निगम देश के 12 शहरों मे पहले स्थान पर है। आगामी 15 अगस्त तक इसके सार्थक परिणाम सामने आएगें। उन्होंने आशा व्यक्त की कि हम सभी के सहयोग से निगम को बेहतर बनाने का कार्य करेंगें।

https://propertyliquid.com


इस मौके पर नगर निगम के उप नगर आयुक्त दीपक सूरा, कार्यकारी अधिकारी जनरैल सिंह, कार्यकारी अभियंता अंकित लोहान, संजीव गुप्ता, एसडीओ आर के शर्मा, मुख्य सफाई निरीक्षक साधु राम सहित कई अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

DLIS organized Alumni meet

FDP on ‘Effective Communication in Digital Era’ concludes

Chandigarh January 20, 2021

“Effective Communication involves Consciousness” Prof. Nandita Singh

“Communication shapes your persona, requires logic and precision” Prof. Tomar

The seven day online Faculty Development Program on the theme ‘Effective Communication in the Digital Era’ organized by HRDC, Panjab University concluded today. The course was attended by 36 participants representing 22  disciplines including sciences, social sciences, humanities and eight states including Himachal Pradesh, Punjab, Haryana, Karnataka, Assam, Rajasthan, Madhya Pradesh, Rajasthan and Chandigarh. Prof. Nandita Singh, from Dept of Education, PU was the key note speaker and Prof. S.K. Tomar, honorary Director, HRDC, PU was the chief guest for the occasion.

For Detailed News-

Prof. Tomar spoke about the significance of effective communication as he compared communication to the respiratory system essential for human survival. He also pointed out the importance of precision and logic in making communication effective. Prof. Singh brought in the component of consciousness in making communication effective in the digital era. Recipient of the Heartfulness Educator Award 2020, Prof. Singh explained how mind and heart play a significant role in making communication effective in this digital era. Dr. Bhavneet Bhatti, Course Coordinator and Assistant Professor, School of Communication Studies, presented the report of the FDP and informed that 20 resource persons from various parts of the country and abroad conducted sessions on diverse aspects of effective digital communications. These included sessions on digital communication skills, fact checking in the digital content, online tools for digital classrooms, Digital storytelling, Media and Empathy, Digital Era and Mental Health to name a few. Prof. Jayanti Dutta, Deputy Director, HRDC, PU spoke to the participants about the challenges and advantages of online training programs.

https://propertyliquid.com

The valedictory session of the program also saw participants presenting their feedback for the program.

Alumni Re-lived Old Memories at U.I.F.T. Virtual ‘Reconnect’

Alumni Re-lived Old Memories at U.I.F.T. Virtual ‘Reconnect’

Chandigarh January 20, 2021

For Detailed News-

Nearly 70 Alumni of the University Institute of Fashion Technology & Vocational Development (UIFT & VD), Panjab University participated in the first of its kind Virtual “Reconnect 2021” Meet hosted by the institute.

Two former students, Surbhi Singla, a leading model who has walked the ramp for leading brands and fashion designers, and Anupreet Sidhu, who runs her fashion label ‘Sidhuji’, were awarded at the virtual Meet. 

“It is due to all teachers’ support that I reached this position. Sometimes I had to miss classes to walk the ramp or to receive an award; it was because the UIFT family understood me that I could do something,” said Surbhi. 

Manisha Dhiman, a budding entrepreneur who has launched her own handicrafts’ brand, ‘Kalakari,’ was also a part of the Reconnect, where she shared her success story. “I wanted to make crafts merchandise that was durable. Other handicrafts that I used to see had this aspect missing. I began taking feedback of my first products from hostel friends and department faculty,” she said. Margee Sharma, an upcoming blogger who has worked with leading brands, was also a part of the Meet and shared her journey. 

https://propertyliquid.com

Dr. Anu H. Gupta, Chairperson UIFT & VD  warmly welcomed the former students and was reminiscent of the old days. “We had a humble beginning of U.I.F.T. with just five rooms in the old building. Gradually with the support of university administration, the alumni, faculty, and students, we have progressed leaps and bounds. We have hosted national and international events, and we aim to set higher benchmarks,” she said. 

‘Reconnect’ Convenor Dr. Rita Kant took friendly feedback from the alumni on their current pursuits and plans. “It is a great feeling to see the former students’ back-all on one platform. I am sure this Reconnect will benefit the institute in many ways,” she added. 

A novel initiative was announced at the ‘Reconnect 2021’ by the Chairperson- to commence a special lecture series-cum-regular interaction of ‘Alumni’ with the department’s current students.